- Advertisement -

गोवर्धन पूजा : इस शुभ मुहूर्त में करें भगवान श्रीकृष्ण का पूजन, दूर होंगे सारे कष्ट

0

- Advertisement -

दिवाली के अगले दिन कार्तिक माह की कृष्ण पक्ष की प्रतिपदा तिथि को गोवर्धन पूजा का त्योहार मनाया जाता है। कुछ इलाकों में इसे अन्नकूट भी कहा जाता है। हिंदू धर्म में गोवर्धन पूजा का बड़ा ही महत्त्व होता है। इस दिन लोग अपने घर के आंगन में भगवान गोवर्धन यानी श्री कृष्ण की अल्पना बनाकर उनकी पूजा करते हैं। इस दिन शाम के समय में विशेष रूप से भगवान श्रीकृष्ण की पूजा की जाती है। इस त्योहार को लेकर एक बहुत ही पुरानी कथा प्रचलित है कि इस दिन भगवान कृष्ण ने गोवर्धन पर्वत उठाया था और वृंदावन के लोगों को भयंकर बारिश से बचाया था।

गोवर्धन पूजा का शुभ मुहूर्त

पहला मुहूर्त- सुबह 6:42 से 8:51 तक
दूसरा मुहूर्त- दोपहर 3:18 से शाम 5:27 तक

कैसे करें पूजा

सबसे पहले ब्रह्म मुहूर्त में उठकर शरीर पर तेल मलकर स्नान कर लें। इसके बाद स्वच्छ वस्त्र धारण कर अपने इष्ट देव का ध्यान करें। अब अपने घर या देवस्थान के मुख्‍य द्वार के सामने प्रात: गाय के गोबर से गोवर्धन पर्वत बनाएं फिर उसे वृक्ष, वृक्ष की शाखा एवं पुष्प इत्यादि से सजाएं। इसके बाद गोवर्धन पर्वत पर अक्षत, पुष्प आदि अर्पित करें। धूप और दीपक जलाएं।

- Advertisement -

Leave A Reply