Covid-19 Update

58,598
मामले (हिमाचल)
57,311
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,095,852
मामले (भारत)
114,171,879
मामले (दुनिया)

Sirmaur के शहीद अजय कुमार को नम आंखों से दी अंतिम विदाई 

Sirmaur के शहीद अजय कुमार को नम आंखों से दी अंतिम विदाई 

- Advertisement -

नाहन। Sirmaur के जांबाज शहीद अजय कुमार कौंडल को आज उनके पैतृक गांव थुरनधार में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई । शहीद के पिता सुरेश कौंडल ने अपने बेटे को मुखाग्नि दी गई। इस अवसर पर पच्छाद के विधायक सुरेश कश्यप और जिला प्रशासन की ओर से SDM राजगढ़ नरेश कुमार वर्मा, पुलिस उपअधीक्षक बबीता राणा तथा सैन्य अधिकारियों द्वारा  सिपाही अजय कुमार के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित करके उन्हें श्रद्धांजलि दी गई । इससे पहले शहीद अजय कुमार का पार्थिव शरीर आज दोपहर नाहन के आर्मी मैदान में लाया गया जहां पर डीसी  ललित जैन सहित अन्य सैन्य अधिकारियों द्वारा शहीद को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई ।

उसके उपरांत शहीद अजय कुमार का पार्थिव शरीर सड़क के माध्यम से उनके पैतृक गांव कोटला-पंजोला पंचायत के गांव थुरनधार पहुंचाया गया । Sirmaur जिले की पच्छाद तहसील की कोटला-पंजोला पंचायत के थुरनधार गांव के अजय कुमार जम्मू-कश्मीर में 42-राष्ट्रीय राइफल में तैनात थे।  अजय कुमार की आयु केवल 25 वर्ष थी। इनके पिता सुरेश कौंडल और माता कमला देवी एक साधारण कृषक परिवार से संबध रखते हैं। अजय कुमार के छोटे भाई संजय कुमार का लगभग तीन माह पूर्व निधन हुआ है।

राज्यपाल तथा सीएम जताया  शोक व्यक्त

Governor Acharya Devvrat  और CM Jai Ram Thakur ने शहीद जवान अजय कुमार की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने शोक संतप्त परिजनों के प्रति गहरी संवेदनाएं व्यक्त की है तथा दिवंगत आत्मा की शान्ति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है। Governor ने कहा कि अजय कुमार ने देश लिए अपने प्राण न्योछावर किए हैं और देश के लोग इस महान बलिदान के लिए हमेशा बहादुर सिपाही के ऋणी रहेंगे। CM Jai Ram Thakur ने सांत्वना संदेश में कहा कि Himachal Pradesh वीर जवानों की भूमि रही है और अजय कुमार ने देश के लिए अपने प्राणों का बलिदान दिया है। विधानसभा अध्यक्ष Dr. Rajeev Bindal ने  दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की है । उन्होने  शोकाकुल परिवार के प्रति अपनी गहरी सांत्वना व्यक्त की। विधायक सुरेश कश्यप  ने शोकाकुल परिवार को उनके घर जाकर सांत्वना दी और दिवगंत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है