Covid-19 Update

2,18,693
मामले (हिमाचल)
2,13,338
मरीज ठीक हुए
3,656
मौत
33,697,581
मामले (भारत)
233,301,085
मामले (दुनिया)

कौशल विकास भत्ते में धोखाधड़ी! कोचिंग ले रहे बच्चों से साइन करवा रख लिए ब्लैंक चेक

कौशल विकास भत्ते में धोखाधड़ी! कोचिंग ले रहे बच्चों से साइन करवा रख लिए ब्लैंक चेक

- Advertisement -

ऊना। टाहलीवाल स्थित एक कोचिंग सेंटर (Tahliwal Coaching Center) में बच्चों के साथ धोखाधड़ी (Fraud) का मामला सामने आया है। यहां कोचिंग ले रहे बच्चों का आरोप सेंटर मालिक ने सरकार की ओर से मिलने वाली कौशल विकास भत्ते (Skill Development Allowance) की राशि का करीब एक लाख से अधिक रुपए अपने पास रख लिए हैं। इतना ही नहीं, कोचिंग (Coaching)ले रह बच्चों ने यह भी आरोप लगाया है कि सेंटर मालिक ने उनके खाली चेकों ( Blank Check) पर साइन पर भी करवाकर अपने पास रखे ब्लैंक चेक रखे हुए हैं। शनिवार इस मामले को लेकर कोचिंग सेंटर (Coaching Center) में जमकर हंगामा भी हुआ।

ये भी पढ़ें: सेना भर्ती का प्रशिक्षण ले रहे लड़के-लड़कियां भिड़े, जमकर चले लात-घूंसे और डंडे

इसके बाद जिला परिषद सदस्य कमल सैणी (District Council Member Kamal Saini) मौके पर पहुंचे और लिखित में समझौता करवाया। कोचिंग सेंटर में शिक्षा ले रहे बच्चों का आरोप है कि सेंटर के मालिक ने उनसे खाली चेकों पर साइन करवा कर रख लिए हैं और उनसे उनकी पासबुक भी ले ली है।

बच्चों का आरोप है कि जो भी कौशल विकास भत्ता सरकार की तरफ से आ रहा था, उसे सेंटर का मालिक खुद ही निकाल लेता था। बच्चों ने बताया कि सरकार की ओर से मिलने वाले कौशल विकास भत्ता सेंटर मालिक ने रख लिया है। बच्चों की मानें तो करीब 17 बच्चों के करीब एक लाख रुपए भत्ता बनता है। बच्चों का कहना है कि हमने सेंटर के मालिक से अपने डॉक्यूमेंट वापिस मांगे, तो वह उनके लिए भी मना करने लगा।

बच्चों को फीस को लेकर कुछ गलतफहमी हो गई, जिसके लिए बुधवार तक का समय दिया गया है। जो बच्चे कोचिंग जारी रखना चाहते हैं, उनकी कोचिंग शुरू कर दी जाएगी और जो बच्चे कोचिंग नहीं करना चाहते, उनकी फीस वापिस कर दी जाएगी

महिला, कोचिंग सेंटर

दोनों पक्षों का लिखित में समझौता करवाया है। इसमें यह लिखा गया है कि अगर बुधवार तक सेंटर के मालिक बच्चों की फीस वापिस नहीं करते है, तो उन पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी

कमल सैनी, जिला परिषद सदस्य 

मीडिया द्बारा मामला ध्यान में लाया गया है। अभी 2020-21 का कौशल विकास भता किसी भी सेंटर को नहीं भेजा गया है। इस संबध में अगर कोई शिकायत आती है, तो जांच करवाई जाएगी

अनीता गौतम, जिला रोजगार अधिकारी 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है