×

स्मार्टफोन यूजर्स को 5जी के लिए अभी करना होगा और इंतजार

स्मार्टफोन यूजर्स को 5जी के लिए अभी करना होगा और इंतजार

- Advertisement -

नई दिल्ली। स्मार्टफोन यूजर्स (Smartphone Users) जो बेसब्री से 5जी (5G) का इन्तजार कर रहे हैं उनको यह खबर जानने के बाद थोड़ी दिक्कत हो सकती है क्योंकि कहे अनुसार भारत 2020 तक 5जी टेक्नोलॉजी नहीं आ पाएगी। यह एक्टिव नेटवर्क शेयरिंग (Active Network Sharing) पर बेरुखी, पतले फाइबर और सही मानदंडों के अभाव के कारण हुआ है। भारत में मोबाइल इन्फ्रास्ट्रक्चर (Mobile Infrastructure) में काफी धीमापन देखने में आया है। इस समय टेलीकॉम इन्फ्रास्ट्रक्चर एक बिलियन एक्टिव यूजर्स को संभाले हैं जिनमें बढ़ावा जरूरी है।


यह भी पढ़ें- 11 नहीं एक घंटे में पहुंचेंगे मुंबई से लंदन, जानिए कैसे होगा मुमकिन

जानकारी के मुताबिक़, पिछले कुछ सालों से भारी कर्ज के कर्ज में डूबी वोडाफोन-आइडिया (Vodafone Idea) और भारती एयरटेल (Bharti Idea) ने बहुत कम नेटवर्क में इन्वेस्टमेंट (Investment) किया है एक्सपर्ट्स का मानना है कि अगर भारत में 5जी को लाना है तो फाइबर, छोटे सेल और मोबाइल टॉवर्स के जरिए इन्वेस्टमेंट करना जरूरी है। फाइबर को फैलाने का सिस्टम अभी भी भारत में बहुत छोटे स्तर पर है। भारत के 5जी नेटवर्क को 100 मिलियन फाइबर किलोमीटर (mfkm) ऑप्टिक-फाइबर केबल की जरूरत पड़ेगी, जो मौजूदा दौर में सिर्फ 25 mfkm की दर से बढ़ रहा है। हाई स्पीड हासिल करने के लिए फाइबर कनेक्टिविटी बेहद जरूरी है। भारत में फिलहाल 5 लाख टावर्स हैं, जिसमें से 22 प्रतिशत फाइबर से लैस हैं, जबकि यह आंकड़ा चीन (China) में 80 प्रतिशत है। भविष्य में अगर इंडस्ट्री को गांवों में 5जी पहुंचाना पड़ा तो वह फाइबर के बिना नहीं हो पाएगा।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है