Covid-19 Update

2,05,499
मामले (हिमाचल)
2,01,026
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,571,295
मामले (भारत)
197,365,402
मामले (दुनिया)
×

राहुल गांधी के ‘रेप इन इंडिया’ बयान पर गर्माया सदन, उठी माफ़ी की मांग

राहुल गांधी के ‘रेप इन इंडिया’ बयान पर गर्माया सदन, उठी माफ़ी की मांग

- Advertisement -

 

नई दिल्ली। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi)ने देश में बढ़ रहे रेप के मामलों पर एक ऐसा बयान दिया, जिसपर आज लोकसभा गर्मा गई। राहुल गांधी ने गुरूवार को झारखंड विधानसभा चुनाव की रैली में बीजेपी के मेक इन इंडिया (Make In India) की तुलना रेप इन इंडिया (Rape in India)से की थी। इस बयान को लेकर बीजेपी की महिला सांसद राहुल गांधी से माफ़ी की मांग कर रही हैं। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Union Minister Smriti Irani) समेत  कई महिला सांसदों ने राहुल गांधी के बयान पर आपत्ति जताते हुए माफ़ी मांगने के लिए कहा है।


 

लोकसभा में इस बयान पर आपत्ति जताते हुए स्मृति ईरानी ने कहा, ‘गांधी खानदान के सदस्य ने कहा है कि महिलाओं का बलात्कार होना चाहिए, देश में हर कोई बलात्कारी नहीं है। जो बलात्कारी है, उसे कानून सजा देता है। हर महिला को कलंकित नहीं किया जा सकता है, इसपर एक्शन लेना चाहिए।’

 

जानकारी के लिए बता दें, झारखंड चुनाव प्रचार रैली के दौरान राहुल गांधी ने कहा था- ‘हर दिन देश के कोने-कोने से महिलाओं के बलात्कार की खबरें आती हैं। मोदी जी एक शब्द नहीं कहते। मोदी जी ने कहा था कि ‘बेटी बचाओ’ , लेकिन उन्होंने यह नहीं कहा कि बेटियों को अपने विधायक से बचाने की जरूरत है।’ राहुल गांधी ने कहा- ‘जहां भी आप देखो, देश में नरेंद्र मोदी ने कहा था मेक इन इंडिया कहा था ना, आप जहां भी देखो, मेक इन इंडिया नहीं भईया… रेप इन इंडिया… रेप इन इंडिया जहां भी देखों।  राहुल के इस बयान पर स्मृति ईरानी ने कहा- ‘इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि कोई नेता यह कह रहा है कि भारतीय महिलाओं के साथ बलात्कार किया जाना चाहिए। क्या यह राहुल गांधी का देश के लोगों के लिए संदेश है?’

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है