Covid-19 Update

59,118
मामले (हिमाचल)
57,507
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,228,288
मामले (भारत)
117,215,435
मामले (दुनिया)

आस : पहाड़ों पर फाहे, मैदान सूखे

आस : पहाड़ों पर फाहे, मैदान सूखे

- Advertisement -

कुल्लू। मौसम के बनते बिगड़ते माहौल ने लोगों का धुक-धुक्की बढ़ा दी है। घाटी की ऊंची चोटियों पर हल्का हिमपात हुआ है, जिसके बाद शीतलहर का दौर शुरू हो गया है। पहाड़ों पर फाहे गिरने से तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है। गौर रहे कि कुल्लू घाटी के ऊंचे पहाड़ों पर बुधवार रात हल्की बर्फबारी हुई है, जिसके कारण घाटी के तापमान में शीतलहर चल रही है।

  • कुल्लू में काले बादल देख किसानों -बागवानों में जगी उम्मीद

वहीं लोगों ने ठंड से बचने के लिए तंदूर और हीटर का सहारा लेना शुरू कर दिया है। घाटी में लंबे समय बाद हुई बर्फबारी से किसानों और बागवानों को उम्मीद जगी है और ऐसे में मौसम विभाग के अनुसार आने वाले दो दिनों में बारिश और बर्फबारी के आसार हैं। प्रदेश में जहां ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बारिश और बर्फबारी हुई है , वहीं निचले इलाकों में बारिश न होने से किसान-बागवान खासे मायूस हुए हैं। उनका कहना है कि बूंदाबांदी काफी कम हुई है, जिसका उन्हें कोई भी लाभ नहीं होगा। गौर रहे कि बारिश की आस में बैठे घाटी के किसानों ने अभी तक गेहूं, जौ व मटर की फसल नहीं बीजी है और अब मौसम खराब होने से किसान और बागवानों की उम्मीदें जगी हैं। उनका कहना है कि अगर जल्द मेघ बरस जाते हैं तो वह फसलों की बिजाई भी कर लेंगे।

mandi13तैयारी : February में शुरू होगा संस्कृति सदन का निर्माण

मंडी। 16 करोड़ की लागत से बनने जा रहे संस्कृति सदन का निर्माण कार्य फरवरी महीने से पहले शुरू कर दिया जाएगा। भवन के फाइनल नक्शा की कॉपी जिला प्रशासन के पास पहुंच गई है। बता दें कि भवन निर्माण में हो रही देरी की खबरों के बाद ही इसके निर्माण कार्य में तेजी आई है। 

  • मंडी प्रशासन के पास पहुंचा फाइनल नख्शा
  • 16 करोड़ होने है निर्माण कार्य पर खर्च

25 फरवरी से 3 मार्च तक मनाए जाने वाले अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव में भाग लेने के लिए आने वाले देव समाज से जुड़े लोगों को इस बार थोड़ी राहत मिलेगी। उनके लिए बनने जा रहे संस्कृति सदन के निर्माण कार्य को वह देख पाएंगे। बता दें कि फरवरी 2015 में सीएम वीरभद्र सिंह ने शिवरात्रि महोत्सव के दौरान ही संस्कृति सदन की आधारशिला रखी थी। 16 करोड़ की लागत से बनने वाले संस्कृति सदन के निर्माण में दो वर्षों का विलंब हुआ।

mandi12इसके लिए जो मंजूरी मिलनी चाहिए थी वह काफी देरी से मिली। अंतिम पेंच नक्शे को लेकर फंसा हुआ था जिसकी फाइल शिमला में चक्कर काट रही थी। अब यह फाइल भी जिला प्रशासन के पास पहुंच चुकी है। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री अनिल शर्मा ने बताया कि शासन और प्रशासन के प्रयासों से संस्कृति सदन के निर्माण की सभी औपचारिकताओं को पूरा कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि 16 करोड़ में से 1करोड़ की राशि लोक निर्माण विभाग को सौंपी जा चुकी है और सरकार ने 6 करोड़ की राशि और मंजूर कर दी है। उन्होंने बताया कि 2017 के शिवरात्रि महोत्सव से पहले संस्कृति सदन के निर्माण कार्य को शुरू कर दिया जाएगा।

 बता दें कि संस्कृति सदन का लाभ देव समाज से जुड़े उन लोगों को मिलना है जो हर वर्ष अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव में भाग लेने के लिए मंडी जिला मुख्यालय पर आते हैं। जिला प्रशासन 215 देवी-देवताओं को इस महोत्सव के लिए आमंत्रित करता है। देवी-देवताओं के साथ आने वाले देवलुओं को रहने की खासी परेशानी होती है। इसी समस्या के समाधान के लिए संस्कृति सदन का निर्माण किया जा रहा है। सर्व देवता एवं कारदार संघ ने भी इसके लिए राज्य सरकार का आभार जताया है और उम्मीद जताई है कि इस कार्य को जल्द से जल्द पूरा कर लिया जाएगा। बता दें कि 16 करोड़ की लागत से बनने वाले संस्कृति सदन में पार्किंग और मल्टीपरपज हॉल की सुविधा भी होगी, ताकि साल भर इस सदन का सभी प्रकार की गतिविधियों के लिए इस्तेमाल किया जा सके।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है