Covid-19 Update

59,032
मामले (हिमाचल)
57,473
मरीज ठीक हुए
984
मौत
116,748,718
मामले (भारत)
11,192,088
मामले (दुनिया)

आफत : सैलानी Hotel में कैद, नहीं आई दूध-अंडे की Supply

आफत : सैलानी Hotel में कैद, नहीं आई दूध-अंडे की Supply

- Advertisement -

लेखराज धरटा/ शिमला। दो दिन पहले बर्फबारी इंतजार में थे अब इससे छुटकारा पाना चाह रहे हैं। जी हां प्रदेश की राजधानी शिमला में अब आलम कुछ ऐसा ही है। जो सैलानी यहां घूमने आए थे, अब वह होटलों से बाहर ही नहीं निकल पा रहे हैं। इसके साथ ही बीते दिन से ठप हुई बिजली-पानी की सप्लाई आज भी वैसी ही है, जैसी कल थी। शिमला शहर में दो फुट से ज्यादा बर्फबारी हुई है।

  • शिमला में दूसरे दिन भी पटरी पर नहीं आई व्यवस्था

साल के पहले हिमपात ने प्रशासन के सारे दावों की पोल खोल कर रख दी है। लाख कोशिशों के बावजूद व्यवस्था पटरी पर नहीं उतर पाई है। बहरहाल, शिमला में अभी तक हालात नहीं सुधरे हैं। बिजली और पानी न होने से स्थानीय लोगों को भी दिक्कतों से दो-चार होना पड़ रहा है। शहर में आने वाली दूध, अंडे की सप्लाई दूसरे दिन भी प्रभावित हुई है।

shimla4लोगों के मोबाइल फोन की बैटरी भी खत्म हो चुकी है, जिसके बाद प्रदेश के दूसरे जिलों से यहां काम करने व पढ़ने वाले युवकों का हाल जानने में उनके परिजनों को भी दिक्कत हो रही है। ऊपरी शिमला के जाने वाले अधिकतर मार्ग, जैसे रोहड़ू, नालदेहरा, कुपवी, खड़ापत्थर आदि में गाड़ियों की आवाजाही पूरी तरह से ठप है। गौर रहे कि 1992 के बाद जनवरी में एक दिन में हुए हिमपात के रिकॉर्ड टूट गए हैं। प्रदेश की राजधानी में 24 घंटे से लगातार हो रही बर्फबारी  से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। शिमला में आज शाम तक 2 फीट से ज्यादा बर्फ दर्ज की गई है। जहां एक ओर बिजली की तारें टूटी हैं, वहीं सड़कें बंद हैं। दूसरी ओर शिमला और नारकंडा में पर्यटक होटलों में ही फंसे हैं। 200 से ज्यादा पर्यटक होटलों में रुक गए हैं। हालांकि एसडीएम रामपुर ने नारकंडा का दौरा किया और आधा दर्जन के कैब गाड़ियों को वाया बसंतपुर निकाला गया। बर्फबारी के चलते जहां बिजली आपूर्ति बाधित हो रही है, वहीं दूध तथा पानी की सप्लाई नहीं हो पाई है।

solan9Tension : चायल में फिसलन से Tourist घायल

सोलन। भले ही चायल बर्फ से पूरी तरह लकदक हो गई है, लेकिन यहां हालत य़ह है कि जरा सी नजर हटी तो दुर्घटना घटी। बर्फ की मोटी परत पर फिसल कर कई पर्यटक घायल हो चुके हैं। यहीं नहीं कई जगह फिसलने से गाड़ियों को भी नुकसान पहुंचा है। इतना ही नहीं कई पर्यटक तो बीच रास्तों में भी फंसे हुए हैं, जिन्हें निकालने के प्रयास जारी हैं।

  • कई जगह गाड़ियां फंसी, बिजली-पानी की सप्लाई भी ठप

solan-11बताया जा रहा है कि बर्फबारी के साथ-साथ परेशानियां भी बढ़ गई हैं। बहरहाल, पर्यटन नगरी में सैलानियों के आने का सिलसिला अभी भी बरकरार है। गौर रहे कि चायल बर्फ से पूरी तरह ढक गया है। यहां बर्फ की दो फीट मोटी सफेद चादर बिछ गई है। बर्फबारी अभी-भी जारी है। यहां इस साल की पहली बर्फबारी हुई है, जिससे होटल कारोबारी बेहद खुश हैं। उधर, बर्फबारी के बाद चायल के लोगों को भारी परेशानी  का भी सामना करना पड़ रहा है एक ओर जहां बर्फबारी के साथ कड़ाके की ठंड पड़ रही  है तो वहीं तापमान भी शून्य से  नीचे पहुंच गया है। बिजली और पानी तक की सप्लाई ठप है। कई जगह रास्ते में टूरिस्टों के वाहन फंस गए हैं। बहरहाल, ताजा बर्फबारी के बाद यहां के लोगों को भारी परेशानी हो गई है। 

 

Snowfall के बाद : बादल छंटे पर राहत नहीं

टीम। दो दिन की सफेद आफत के बाद रविवार को जैसे ही मौसम ने ढील दी, वैसे ही प्रशासन ने बंद रास्तों को बहाल करने का काम शुरू कर दिया। प्रदेश के कई इलाकों में एक फुट से लेकर पांच फीट तक करीब बर्फबारी हुई है। शिमला में प्रशासन ने लोगों को कोई दिक्कत न हो इसके लिए सबसे पहले उन्हीं मार्गों को बहाल करने की मुहिम शुरू की है, जहां सबसे ज्यादा आवाजाही होती है।

  • प्रदेश भर में बंद सड़कों को खोलने के लिए कसरत

burfडलहौजी, मनाली में भी प्रशासन के साथ-साथ विभागों ने राहत कार्य शुरू कर दिया है। गौर रहे कि रविवार सुबह पहले तो निचले इलाकों में हल्की बूंदाबांदी और ऊंचाई वाले इलाकों में हिमपात का दौर जारी रहा, लेकिन जैसे ही दिन चढ़ा और हल्की धूप खिली तो प्रशासन के साथ-साथ विभाग भी हरकत में आ गए।  बादल छंटते ही कई इलाकों से बर्फ को हटा कर आवाजाही सुचारू कर दी गई। इसके साथ बंद पड़े संपर्क मार्गों को भी खोलने का क्रम जारी है। प्रशासनिक अधिकारियों का कहना है कि अगर मौसम ने साथ दिया तो बर्फ से बंद हुई सड़कों को बहाल कर दिया जाएगा।

मनाली में लगा जाम

रविवार दोपहर बाद मनाली में गाड़ियों का लंबा जाम लग गया,जिसको खुलवाने में पुलिस के साथ-साथ स्थानीय लोगों के भी पसीने छूट गए।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है