Covid-19 Update

2,00,043
मामले (हिमाचल)
1,93,428
मरीज ठीक हुए
3,413
मौत
29,821,028
मामले (भारत)
178,386,378
मामले (दुनिया)
×

इन्वेस्टर्स मीट को झटकाः लाहुल- स्पीति में मेगा हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट के विरोध में संस्थाएं

इन्वेस्टर्स मीट को झटकाः लाहुल- स्पीति में मेगा हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट के विरोध में संस्थाएं

- Advertisement -

कुल्लू। जनजातीय जिला लाहुल-स्पीति में प्रदेश सरकार की इन्वेस्टर्स मीट को बड़ा झटका लग सकता है।  इन्वेस्टर्स मीट में लाहुल में पावर सेक्टर में लगभग आधा दर्जन से अधिक एमओयू साइन किए गए हैं। घाटी की सेव लाहुल संस्था व जनजातीय धरोहर सुरक्षा समिति ने मेगा हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट के विरोध का निर्णय लिया है। संस्था के पदाधिकारियों का कहना है कि लाहुल में पावर प्रोजेक्ट लगने से के पर्यावरण को बहुत ज्यादा नुकसान होगा। सेव लाहुल संस्था के अध्यक्ष प्रेमचंद ने बताया कि जनजातीय जिला में लोगों के हक को खतरा न हो, इसके लिए पिछले 3 वर्षों से लगातार पर्यावरण संरक्षण के लिए उनकी संस्था कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि हाल ही में प्रदेश सरकार की इन्वेस्टर्स मीट में आधा दर्जन से अधिक बड़े पावर प्रोजेक्ट पर एमओयू साइन हुए हैं। इन बड़े पावर प्रोजेक्ट से लाहुल में पर्यावरण को बड़े स्तर पर नुकसान होगा ।

 


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group … …

 

घाटी में  पेड़-पौधे व जंगल कम होने से पर्यावरण को नुकसान होने  से लोगों का जीना मुश्किल हो जाएगा। उन्होंने कहा कि जिस तरह से किन्नौर में बड़े पावर प्रोजेक्ट बनने के बाद किन्नौर में पर्यावरण को बड़े स्तर पर नुकसान हो रहा है । यही हाल लाहुल स्पीति का भी हो सकता है।  । उन्होंने कहा कि मिनी व माइक्रो पॉवर प्रोजेक्ट पर लाहुल  के लोगों को कोई परेशानी नहीं है क्योंकि मिनी व माइक्रो प्रोजेक्ट से पर्यावरण को ज्यादा नुकसान नहीं होगा लेकिन मेगा पावर प्रोजेक्ट सेपर्यावरण को काफी नुकसान होगा।  उन्होंने कहा कि इसके लिए सेव लाहुल संस्था लोगों से आग्रह करती है कि इन पावर प्रोजेक्ट के के खिलाफ सभी लोग मिलकर आवाज बुलंद करें ताकि आने वाले समय में इन पावर प्रोजेक्ट से पर्यावरण को ज्यादा नुकसान ना हो।

उधर  जनजातीय धरोहर सुरक्षा समिति के अध्यक्ष श्याम आजाद ने बताया कि समिति पिछले 3 वर्षों से लाहुल स्पीति की भौगोलिक परिस्थितियों में जंगल व पेड़ पौधे को बढ़ाने के लिए पौधा रोपण कर पर्यावरण संरक्षण धार्मिक धरोहर को बचाने के लिए प्रयास कर रही है। सरकार बड़े पावर प्रोजेक्ट के लिए एमओयू साइन कर रही है, उससे स्पीति  की जनता किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि मेगा पॉवर प्रोजेक्ट के खिलाफ समिति लोगों के साथ मिलकर इसका विरोध करेंगे ताकि आने वाली पीढ़ियों को भी लोग लाहुल स्पीति की ठंडी आबोहवा मिल सके।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है