Covid-19 Update

2,06,589
मामले (हिमाचल)
2,01,628
मरीज ठीक हुए
3,507
मौत
31,767,481
मामले (भारत)
199,936,878
मामले (दुनिया)
×

मानसून सत्र: ओलंपिक पदक पर मिलेंगे दो करोड़, स्कूलों का बदलेगा खेल कैलेंडर

मानसून सत्र: ओलंपिक पदक पर मिलेंगे दो करोड़, स्कूलों का बदलेगा खेल कैलेंडर

- Advertisement -

शिमला। प्रदेश की जयराम सरकार ने अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में देश के लिए मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों के अवॉर्ड में बढ़ोतरी करने जा रही है। विधानसभा में प्रश्रकाल के दौरान यह जानकारी देते हुए खेल मंत्री गोविंद ठाकुर ने कहा कि ओलंपिक पदक जीतने वाले खिलाड़ी को अब राज्य सरकार एक की जगह दो करोड़ इनाम देगी। सिल्वर पर अब 75 लाख की जगह एक करोड़ और ब्रांज पर 50 लाख मिलेंगे। इसी प्रकार कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में गोल्ड जीतने पर पहले 10 लाख की जगह अब 20 लाख, सिल्वर पर 10 लाख और ब्रांज पर 8 लाख दिए जाएंगे।
वहीं, प्रदेश सरकार सरकारी स्कूलों में खेल केलेंडर में बदलाव करेगी। बीजेपी विधायक नरेंद्र बरागटा द्वारा पूछे एग एक सवाल के जवाब में सीएम जयराम ठाकुर ने यह जानकारी सदन को दी। उन्होंने कहा कि खेलें भारी बरसात में आ रही हैं, इसलिए खेल भी नहीं हो पाते। उन्होंने शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज और खेल मंत्री गोविंद ठाकुर को निर्देश दिए कि दोनों मंत्री बैठकर इस मसले को सुलझाएं और इस तरह खेल कैलेंडर तैयार करें, जिससे न परीक्षाएं प्रभावित हों, न ही ये खेलें बरसात के बीच आए। इससे पहले अनुपूरक सवाल में पच्छाद से विधायक सुरेश कश्यप, घुमारवीं से राजेंद्र गर्ग, सुंदरनगर से राकेश जमवाल और हमीरपुर से नरेंद्र ठाकुर ने आग्रह किया था कि स्कूली खेल बरसात में होते हैं और बारिश की वजह से टूर्नामेंट करना मुश्किल हो रहा है।

पूरे प्रदेश में बनेंगे रेन वाटर हार्वेस्टिंग

शिमला प्रदेश के आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ने कहा कि मोदी सरकार से मंजूर 4751 करोड़ की रेन वाटर हार्वेस्टिंग परियोजना के पहले चरण में 708 करोड़ खर्च होंगे। इसके तहत पूरे प्रदेश में वर्षा जल संग्रहित करने वाले बड़े चेकडैम बनाए जाएंगे।  चौपाल के विधायक बलबीर वर्मा के सवाल का जवाब में मंत्री ने यह जानकारी सदन को दी। महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि प्रदेश में पेयजल और सिंचाई की कुल 12187 स्कीमें हैं। इनमें से 1167 योजनाएं इस बार गर्मियों में सूखे से प्रभावित हुईं। इनमें पेयजल की 922 और सिंचाई की 245 योजनाएं हैं। ये 80 फीसदी सूख गई थीं। चौपाल के नेरवा में भी 12 स्कीमों पर असर पड़ा है। इसी साल मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के चौपाल दौरे के दौरान ब्रिक्स से एक बड़ी पेयजल योजना चौपाल को दी गई है, जिससे ठियोग चुनाव क्षेत्र की कुछ पंचायतें भी लाभांवित होंगी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है