BCCI का पेंच, Team India को नबंर वन बने रहने के लिए करनी होगी कड़ी मेहनत

BCCI का पेंच, Team India को नबंर वन बने रहने के लिए करनी होगी कड़ी मेहनत

- Advertisement -

नई दिल्ली। टीम इंडिया के लिए कड़ी मेहनत करने का समय आ गया है। बीसीसीआई के नए शैड्यूल के बाद अब टीम इंडिया के लिए मैदान में ज्यादा पसीना बहाना पड़ेगा। बहरहाल, टीम इंडिया 2019 से लेकर 2023 तक क्रिकेट के सभी प्रारूपों में कुल 81 मैचों की मेजबानी करेगा, जो वर्तमाम समय में एफटीपी से 30 अधिक है। हालांकि व्यस्त क्रिकटरों को हर साल कम दिन क्रिकेट खेलना पड़ेगा, क्योंकि बीसीसीआई ने कम रैकिंग वाली टीमों के साथ टेस्ट मैचों में कटौती करने का फैसला लिया है। इसका सीधा सा मतलब है कि अगर टीम इंडिया को नबंर एक टेस्ट रैकिंग वाली टीम बने रहना है तो उसे ज्यादा मेहनत करनी पड़ेगी। गौर रहे कि हाल ही में हुई बीसीसीआई की विशेष आम बैठक (एसजीएम) में सदस्यों के बीच एफटीपी पर सर्वसम्मति से सहमति बनी।


अगले एफटीपी के दौरान भारत स्वदेश में इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हाई प्रोफाइल सीरीज खेलेगा। इसके अलावा कप्तान विराट कोहली की खिलाड़ियों की थकान से संबंधित शिकायत पर भी गौर किया गया। अब कार्यकारी समूह इस पर अंतिम फैसला करेगा। इस समूह में बीसीसीआई के तीनों पदाधिकारी शामिल हैं। बोर्ड के सचिव से पूछा गया कि स्टार बल्लेबाज विराट कोहली के थकान के मसले पर कितना गौर किया गया तो उन्होंने कहा, ‘भारतीय टीम को 2015 से 2019 के बीच सभी प्रारूपों (देश और विदेश) में 390 दिन क्रिकेट खेलनी थी। नए प्रस्ताव में 2019 से 2023 के बीच उन्हें 306 दिन ही क्रिकेट खेलनी होगी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

धर्मशालाः नया वन-वे ट्रैफिक प्लान लागू, खनियारा से इस मार्ग से होगा आना

हिमाचल में बारिश और हिमपात ने बढ़ाई ठंडक, जाने कब तक खराब रहेगा मौसम

धर्मशाला उपचुनावः टिकट के तलबगारों की बढ़ी धुकधुकी, लंबी है फेहरिस्त

पच्छाद से उठी आवाज, गंगूराम मुसाफिर ही इस बार-बैठक कर जताई सहमति

9 मजदूरों को लेकर शिंकुला दर्रा पार कर मनाली पहुंची टेंपो ट्रैवलर

वन टाइम यूज प्लास्टिक का स्टॉक पड़ा है तो उसे निपटा लें, लगने वाला है बैन

आसमान से गिरा आग का गोला, हुआ जोरदार धमाका-इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जले

अब धारा 118 की अनुमति के लिए ऑनलाइन कीजिए आवेदन

नाला पार करते बाइक सवार के लिए तिनका नहीं टहनी बनी सहारा-वीडियो

शॉल और टोपी तो ठीक पर व्यापार मंडल ने जयराम को क्यों दी कुर्सी-जानिए रहस्य

सरवीण बोलींः कपूर ने भी माना महिलाओं का लोहा, अपना दे गईं उदाहरण

शशि थरूर ने पूछा- क्या एक चुनाव ने इतनी ताकत दे दी कि हम कुछ भी करें

"जनमंच पर बर्बाद कर डाले सरकारी पैसे,जनता को मिला नहीं कोई लाभ"

अक्षरधाम मंदिर में बदमाशों ने की पुलिस टीम पर फायरिंग, हुए फरार

संडे को बारिश से भीगे शिमला-धर्मशाला, बिलिंग में उड़ाने हुई प्रभावित

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है