BCCI का पेंच, Team India को नबंर वन बने रहने के लिए करनी होगी कड़ी मेहनत

BCCI का पेंच, Team India को नबंर वन बने रहने के लिए करनी होगी कड़ी मेहनत

- Advertisement -

नई दिल्ली। टीम इंडिया के लिए कड़ी मेहनत करने का समय आ गया है। बीसीसीआई के नए शैड्यूल के बाद अब टीम इंडिया के लिए मैदान में ज्यादा पसीना बहाना पड़ेगा। बहरहाल, टीम इंडिया 2019 से लेकर 2023 तक क्रिकेट के सभी प्रारूपों में कुल 81 मैचों की मेजबानी करेगा, जो वर्तमाम समय में एफटीपी से 30 अधिक है। हालांकि व्यस्त क्रिकटरों को हर साल कम दिन क्रिकेट खेलना पड़ेगा, क्योंकि बीसीसीआई ने कम रैकिंग वाली टीमों के साथ टेस्ट मैचों में कटौती करने का फैसला लिया है। इसका सीधा सा मतलब है कि अगर टीम इंडिया को नबंर एक टेस्ट रैकिंग वाली टीम बने रहना है तो उसे ज्यादा मेहनत करनी पड़ेगी। गौर रहे कि हाल ही में हुई बीसीसीआई की विशेष आम बैठक (एसजीएम) में सदस्यों के बीच एफटीपी पर सर्वसम्मति से सहमति बनी।


अगले एफटीपी के दौरान भारत स्वदेश में इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हाई प्रोफाइल सीरीज खेलेगा। इसके अलावा कप्तान विराट कोहली की खिलाड़ियों की थकान से संबंधित शिकायत पर भी गौर किया गया। अब कार्यकारी समूह इस पर अंतिम फैसला करेगा। इस समूह में बीसीसीआई के तीनों पदाधिकारी शामिल हैं। बोर्ड के सचिव से पूछा गया कि स्टार बल्लेबाज विराट कोहली के थकान के मसले पर कितना गौर किया गया तो उन्होंने कहा, ‘भारतीय टीम को 2015 से 2019 के बीच सभी प्रारूपों (देश और विदेश) में 390 दिन क्रिकेट खेलनी थी। नए प्रस्ताव में 2019 से 2023 के बीच उन्हें 306 दिन ही क्रिकेट खेलनी होगी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

जवालीः लोगों ने पीटा पाकिस्तानी झंडे के निशान वाली टोपी पहना व्यक्ति

शहीद का मां और पत्नी से आखिरी वादाः मैं छुट्टी लेकर जल्द आउंगा, बेटे वरूण के साथ खूब खेलूंगा

हिमाचल में जीपीएस डिवाइस के साथ ट्रेक करना हुआ अनिवार्य

कैबिनेट बैठक से पहले जयराम दिल्ली रवाना, जानिए क्यों

हिमाचलः नड्डा की ताजपोशी पर झूमी बीजेपी-फोड़े पटाखे, मिठाइयां बांटी

सिरमौरः आइसक्रीम लेने घर से निकली मासूम की मौत

कांग्रेस बोली-सरकारी सेवा रूल्स की अवहेलना कर रहे जयराम के मंत्री

सास-ससुर और देवर ने किया कैंची से वार, फिर गला घोंट कर महिला को मार डाला

अनंतनाग मुठभेड़ में शहीद हुआ हिमाचल का जवान

महिला डॉक्टर छेड़छाड़ मामला : दो घंटे की पैन डाउन स्ट्राइक के बाद सरकार को एक दिन का अल्टीमेटम

ऊना : स्कूल बस और बाइक में जोरदार टक्कर, यूपी निवासी की मौत

कोटा के सांसद ओम बिड़ला होंगे लोकसभा के नए स्पीकर

कहीं यह तो नहीं नड्डा को अध्यक्ष की जगह कार्यकारी अध्यक्ष बनाने का कारण

नूरपुरः खेतों में मिला रॉकेट लॉन्चर, पुलिस ने सील किया इलाका-आर्मी बुलाई

विदेश से लौटते ही जयराम ने की 'वन नेशन वन इलेक्शन' की पैरवी, दौरे का रिस्पांस बेहतर बताया 

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है