Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

सात साल क्रिकेट से दूर रहे श्रीसंत की Ranji Team के लिए हो सकती है वापसी

सात साल क्रिकेट से दूर रहे श्रीसंत की Ranji Team के लिए हो सकती है वापसी

- Advertisement -

नई दिल्ली। मैच फिक्सिंग (Match fixing) के मामले में सात साल क्रिकेट से दूर रहने वाले तेज भारतीय गेंदबाज एस श्रीसंत (Indian bowler S Sreesanth) एक बार फिर मैदान पर वापसी कर सकते हैं। खबरों की मानें तो वह आने वाली रणजी सीजन में केरल (Kerala) की ओर से खेलेंगे। दरअसल, कहा जा रहा है कि अगर वह अपनी फिटनेस साबित करते हैं तो उन्हें टीम में शामिल किया जा सकता है। गौर हो उन्हें साल 2013 में आईपीएल (IPL) में हुई फिक्सिंग के बाद लगे बैन के कारण सात साल मैदान से दूरी बनानी पड़ी थी।

यह भी पढ़ें: करण जौहर ने सैंकड़ों स्टार्स को कर दिया Unfollow, अब बस इन चार लोगों को कर रहे फॉलो

केरल रणजी टीम ने किया श्रीसंत को टीम में शामिल करने का फैसला

याद हो, श्रीसंत मई 2013 में मैच फिक्सिंग के आरोप में श्रीसंत और उनके दो राजस्थान रॉयल्स टीम के साथी अजीत चांडिला और अंकित छवन को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था, जिसके बाद इन तीनों खिलाड़ियों पर आजीवन बैन लगा दिया गया था। लेकिन, श्रीसंत को 2015 में आरोपों से बरी कर दिया गया था। जिसके बाद साल 2018 में केरल हाई कोर्ट ने उनपर लगे आजीवन प्रतिबंध को खत्म कर दिया। केरल रणजी टीम ने कोच टीनू जॉन से बात करके श्रीसंत को टीम में शामिल करने का फैसला किया है।


यह भी पढ़ें: Yuvraj Singh के खिलाफ याचिका दायर, अनुसूचित समाज को लेकर कथित टिप्पणी का है मामला

27 टेस्ट में 87 विकेट और एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में 75 विकेट लिए

फिलहाल अभी तक रणजी ट्रॉफी के आयोजन को लेकर बीसीसीआई (BCCI) ने कोई फैसला नहीं किया है। लेकिन माना जा रहा है कि श्रीसंत सितंबर में शुरू होने वाली टीम के कैंप का हिस्सा होंगे। क्रिकेट करियर की बात करें तो श्रीसंत ने बैन लगने से पहले 27 टेस्ट में 87 विकेट और एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में 75 विकेट लिए थे। वह साल 2007 की टी20 वर्ल्ड चैंपियन टीम और 2011 में विश्व कप क्रिकेट विजेता टीम के सदस्य भी थे। बैन के दौरान उन्होंने एक्टिंग और पॉलिटिक्स दोनों में हाथ में भी आजमाया था।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है