Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

दस दिन बाद भी नहीं सुलझी स्टाफ नर्स की मौत की गुत्थी, एएसपी से मिले परिजन

दस दिन बाद भी नहीं सुलझी स्टाफ नर्स की मौत की गुत्थी, एएसपी से मिले परिजन

- Advertisement -

हमीरपुर। मेडिकल कॉलेज में तैनात स्टाफ नर्स मोनिका की मौत की गुत्थी से दस दिन बीतने पर भी नहीं सुलझ पाई है। मेडिकल कालेज में वार्ड सिस्टर की प्रताड़ना से तंग आकर सुसाइड करने के लिए मजबूर हुई मोनिका के परिजनों ने न्याय की गुहार लगाई है। मोनिका के परिजनों ने इससे पहले भी वार्ड सिस्टर के द्वारा परेशान करने की बात को बताया है। वहीं परिजनों ने पुलिस पर भी दबाव में आकर जांच करने और वार्ड सिस्टर को बचाने का आरोप लगाया है। स्टाफ नर्स मोनिका का मोबाइल लॉक दस दिन बीतने पर भी नहीं खुलने पर भी परिजनों ने पुलिस जांच पर सवाल उठाए है।

यह भी पढ़ें :स्टाफ नर्स मोनिका आत्महत्या मामलाः एसएफआई ने रैली निकाल किया प्रदर्शन


परिजनों ने आरोपी वार्ड सिस्टर के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के साथ गिरफ्तार करने की मांग की है और इसी के चलते परिजनों ने एएसपी विजय सकलानी से मुलाकात की है। मोनिका की माता गुरूप्यारी देवी ने बताया कि करीब दो ढाई महीने पहले मोनिका ने स्टाफ के द्वारा जातिसूचक शब्दों से बुलाने के साथ प्रताड़ना करने की बात कही थी लेकिन उस समय लगा कि कभी कभार ऐसा होता होगा। लेकिन उसके कुछ दिनों बाद ही मोनिका का परेशान होकर आत्महत्या करने से सभी सन्न रह गए। उन्होंने बताया कि दो महीने पहले सोचा था कि अगर दोबारा ऐसा वार्ड सिस्टर करेगी तो शिकायत करेंगे लेकिन शिकायत करने से पहले ही मोनिका ने आत्महत्या कर ली । वहीं मोनिका के पति ने कहा कि आठ दस दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस की पड़ताल पूरी नहीं हो पाई है। उन्होंने कहा कि अभी तक मोनिका का मोबाइल लॉक भी नहीं खुल पाया है। जल्द मामले में संलिप्त वार्ड सिस्टर को गिरफ्तार किया जाए। उन्होंने बताया कि हर वक्त काम के लिए गलती निकालते रहते थे, जिस पर मोनिका परेशान रहती थी।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है