×

#Solan: बीएड व एमएड की परीक्षाओं में ड्यूटी देने से इंकार, रद्द करने को आवाज बुलंद

कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते पीजी कॉलेज के स्टाफ ने खड़े किए हाथ

#Solan: बीएड व एमएड की परीक्षाओं में ड्यूटी देने से इंकार, रद्द करने को आवाज बुलंद

- Advertisement -

दयाराम कश्यप/सोलन। पीजी कॉलेज (PG College) में इन दिनों चल रही परीक्षाओं के दौरान ड्यूटी दे रहे स्टाफ ने आगे ड्यूटी देने से मना कर दिया है, जिसका कारण स्टाफ के लोगों में कोरोना का संक्रमण पाया जाना बताया गया है। स्टाफ पिछले दो माह से कॉलेज में बीए (BA) व एमए (MA) की परीक्षाएं करवा रहा है, जिस कारण कॉलेज का स्टाफ लगातार कोरोना की जद में आ रहा है। इसी बीच कॉलेज स्टाफ के एक कर्मचारी की पत्नी का हाल ही में कोरोना (Corona) संक्रमण के कारण देहांत भी हुआ है। मौजूदा समय में कॉलेज स्टाफ के चार लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं, जबकि 5 से 10 लोगों में कोरोना के लक्षण होना पाए जा रहे हैं। इस कारण उन्हें आइसोलेट (Isolate) किया गया है।


यह भी पढ़ें: HP Covid-19: पीएम के दौरे से पहले कुल्लू पहुंचे 17 सरकारी कर्मी समेत कुल 48 पॉज़िटिव; 6 की मौत

 

बता दें कि 7 अक्टूबर से फिर पीजी कॉलेज में बीएड (B.Ed) तथा एमएड (M.Ed) की परीक्षाएं शुरू हो रही हैं, लेकिन कोरोना के डर से कॉलेज स्टाफ ने ड्यूटियां देने से साफ इंकार कर दिया है। स्टाफ का कहना है कि इस प्रकार से अन्य लोगों में भी ये संक्रमण फैल जाएगा और परिवार को भी सुरक्षित रखना मुश्किल होगा। हिमाचल प्रदेश महाविद्यालय शिक्षक संघ की सोलन इकाई ने आज को प्रदेश यूनिवर्सिटी को एक ज्ञापन कॉलेज प्रधानचार्य के माध्यम से प्रेषित कर बीएड व एमएड की होने वाली परीक्षाओं को रद्द करने की बात की मांग की है। एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष रविंद्र कुमार ठाकुर और सोलन पीजी कॉलेज इकाई के अध्यक्ष डॉ. राजेंद्र वर्मा ने कहा है कि सोलन पीजी कॉलेज में दो महीनों से परीक्षाएं करवाई जा रही हैं, जिसके लिए सोलन पीजी कॉलेज में परीक्षाओं के लिए केंद्र बनाया गया है। कोविड-19 (Covid-19) के इस दौर में भी पीजी कॉलेज का समस्त स्टाफ अपनी सेवाएं दे रहा है, लेकिन सोलन में अब कोविड-19 संबंधी संक्रमण के मामले बढ़ गए हैं, जिसके मध्यनजर पीजी कॉलेज सोलन के शिक्षक संघ की सोलन इकाई ने सर्वसम्मति से निर्णय लिया है कि वह आगे की परीक्षाओं में ड्यूटी नहीं दे पाएंगे। यदि स्टाफ की ड्यूटी निरंतर लगती रही तो ना केवल परिवारों बल्कि परीक्षार्थियों के संक्रमित होने की भी आशंका है। इसलिए यूनिवर्सिटी प्रशासन से अनुरोध किया है कि वह आगे की परीक्षाओं के लिए कोई वैकल्पिक व्यवस्था करें या फिर परीक्षाओं को आगे के लिए टाल दिया जाए।

 an example image

 

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

 an example image

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है