×

कोटासनी मेला Ground पर चल रहा गतिरोध थमा, निर्माण कार्य टला

कोटासनी मेला Ground पर चल रहा गतिरोध थमा, निर्माण कार्य टला

- Advertisement -

धर्मशाला।  सौकणी दा कोट पंचायत में ग्रामीणों व पंचायत के बीच मेला मैदान में निर्माण को लेकर चल रहा विवाद थम गया है। मिड हिमालयन परियोजना प्रबंधन ने आगामी आदेशों तक निर्माण कार्य पर रोक लगा दी है। साथ ही यह भी ऐलान किया है कि ग्रामीणों की मर्जी के बगैर किसी भी तरह का निर्माण नहीं किया जाएगा। मिड हिमालयन परियेाजना के इस फैसले के बाद ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है।


  • निर्माण को लेकर पंचायत व ग्रामीणों में चल रहा था तनाव
  • मेला मैदान में निर्माण कार्य के खिलाफ हैं स्थानीय लोग, पंचायत ने दी है मंजूरी

गौरतलब है कि सौकणी दा कोट पंचायत में कोटासनी माता मंदिर के मेला मैदान में पंचायत की मर्जी से मिड हिमालयन परियोजना के लिए भवन का निर्माण प्रस्तावित था। इस निर्माण पर स्थानीय लोगों ने ऐतराज जताया था। protest-3लोगों का कहना है कि निर्माण से पंचायत के इकलौते व ऐतिहासिक कोटासनी माता मेले पर दूरगामी प्रभाव पड़ेंगे। मेला मैदान सिकुड़ जाएगा और भविष्य में छिंज मेले के आयोजन को लेकर दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। कोटासनी माता मेले के दौरान करीब पांच सौ दुकानें मैदान में सजती हैं और दो दिन तक हजारों लोग खरीददारी के लिए पहुंचते हैं। इसके साथ ही दो दिवसीय छिंज के दौरान भारी भीड़ छिंज स्थल के आसपास जमा होती है। मेला मैदान के बीचों-बीच कोटासनी-मोहली वैकल्पिक सड़क गुजरती है जिसकी वजह से मेले के दौरान ट्रैफिक जाम से बचने के लिए दुकानदार खाली जगह पर अपनी दुकानें सजाते हैं और इसी जगह को पंचायत ने मिड हिमालयन परियोजना को देने का फैसना किया है। जिसके खिलाफ लोगों में भारी आक्रोश है। ग्रामीणों में पूर्व प्रधान नीलम, संसार चंद, भानी राम, जयकर्ण, संदीप, देस राज, बिहारी लाल, प्रीतम चंद, लक्की, राकेश कुमार, गोविंद, विजय कुमार, रमेश चंद, नरेश व जगदीश चंद सहित अन्य ने बताया कि वे कोटासनी माता मेले के आयोजन के पक्ष में हैं। पंचायत को अपने निर्णय पर पुनर्विचार करने की जरूरत है। उन्होंने मिड हिमालयन परियोजना के समक्ष अपना पक्ष रखा था। जिसे परियोजना निदेशक ने स्वीकार कर लिया है।

आगामी आदेशों तक नहीं होगा कोई निर्माण : निदेशक
ग्रामीणों के विरोध को देखते हुए फिलहाल इस निर्माण कार्य को आगामी आदेशों तक टाल दिया गया है। परियोजना प्रबंधन हालात का जायजा लेगा और उसके बाद ही यह तय करेगा कि विवादित स्थल पर निर्माण संभव है या नहीं।
मिड हिमालयन परियोजना के निदेशक पवनेश कुमार

ग्रामसभा में चर्चा करे मिड हिमालयन परियोजना
कोटासनी माता मेला मैदान में प्रस्तावित निर्माण को लेकर मिड हिमालयन की आगामी कार्रवाई पंचायत के सभी लोगों की मौजूदगी में होनी चाहिए। इस पर ग्रामसभा के कोरम में चर्चा जरूरी है। ताकि लोग अपनी राय दे सकें।
पूर्व प्रधान व समस्त ग्रामीण

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है