Covid-19 Update

1,99,197
मामले (हिमाचल)
1,91,732
मरीज ठीक हुए
3,394
मौत
29,633,105
मामले (भारत)
177,414,471
मामले (दुनिया)
×

गाय के गोबर और मूत्र के प्रोडक्ट बनाने का शुरू करें बिजनेस, सरकार देगी 60 प्रतिशत फंड

गाय के गोबर और मूत्र के प्रोडक्ट बनाने का शुरू करें बिजनेस, सरकार देगी 60 प्रतिशत फंड

- Advertisement -

नई दिल्ली। केंद्र सरकार गाय के गोबर (Cow dung) और गोमूत्र से नए प्रोडक्ट बनाने का कारोबार शुरू करने पर सरकार 60 प्रतिशत फंड देगी। राष्ट्रीय कामधेनु आयोग के चेयरमैन ने कहा है कि डेयरी के साथ-साथ गाय के गोबर और गोमूत्र से बने उत्पाद बनाने वाले स्टार्टअप (Startup) के लिए लोग शुरुआती निवेश की 60 फीसदी धनराशि सरकारी फंडिग से हासिल कर सकते हैं।

 


यह भी पढ़ें: पाकिस्तान में अब गाय के गोबर से चलेंगी गाड़ियां, ग्रीन बसें चलाने की कोशिश

वहीं काउ बोर्ड के चेयरमैन वल्लभ कठेरिया के अनुसार युवाओं को गाय और उसके बाय प्रोडक्ट (By product) आधारित उद्योग के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा और उनसे गाय का इस्तेमाल दूध और घी के लिए ही नहीं, बल्कि गौमूत्र और गाय के गोबर के औषधीय और कृषि कार्यों में इस्तेमाल पर जोर दिया जाएगा। बोर्ड ऐसे बाय प्रॉडक्ट्स के लिए स्कॉलर्स और रिसर्चर्स को अपना प्रोजेक्ट दिखाने के लिए एक मंच भी देगा।

कठेरिया ने कहा, ‘गोमूत्र और गाय के गोबर का औद्योगीकरण लोगों को प्रोत्साहित करेगा कि वे ऐसी गायों को न छोड़ें जिन्होंने दूध देना बंद कर दिया है। उन्होंने आगे कहा, ‘जो लोग पहले से ही गौशाला चला रहे हैं, हम उनके लिए ट्रेनिंग प्रोग्राम्स और स्किल डिवेलपमेंट कैंप (Skill Development Camp) का भी आयोजन करेंगे। बता दें कि बीजेपी सरकार ने इस साल फरवरी में 500 करोड़ रुपये के शुरुआती धनराशि के साथ कामधेनु आयोग की शुरुआत की थी। इसका उद्देश्य इस तरह के नए बिजनस को रफ्तार देने का है।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

 

catagories- business, latest

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है