×

बिजली बोर्ड में ठेकेदारी प्रथा हो बंद, नए स्टाफ की हो नियुक्ति

बिजली बोर्ड में ठेकेदारी प्रथा हो बंद, नए स्टाफ की हो नियुक्ति

- Advertisement -

ऋषि महाजन/ नूरपुर। राज्य विद्युत बोर्ड लिमिटेड में ठेकेदारी प्रथा बंद कर नए स्टाफ की नियुक्तियां की जाएं, जिससे प्रदेश में लगातार बढ़ रहे बेरोजगारों को रोजगार मिल सके। यह मांग राज्य विद्युत बोर्ड के तकनीकी कर्मचारी संघ प्रदेश मुख्य सलाहकार कुलदीप शर्मा ने नूरपुर में मीडया से बातचीत में कही। उन्होंने कहा कि बोर्ड की हालत इस बात से पता चलती है कि नूरपुर जोन के तहत फतेहपुर स्थित 132 केवी सब स्टेशन जिसका उद्घाटन 29 जुलाई 2017 को पूर्व सीएम वीरभद्र द्वारा किया गया था, उसको चलाने हेतु आज स्टाफ का एक भी कर्मचारी उपलब्ध नहीं है।


उन्होंने बताया कि इस सब स्टेशन को चलाने के लिए कम से कम 30 कर्मचारियों की जरूरत है, जिनमें एसडीओ, 5 जेई, 5 हेल्पर, इलेक्ट्रीशियन, लाइनमैन, क्लर्क व फोरमैन ही आवश्यकता है, लेकिन हास्यपद बात है कि इस सब स्टेशन को 33 केवी के सब स्टेशन अटेंडेंट द्वारा चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि 1980 में पूरे हिमाचल विद्युत बोर्ड में 2 लाख उपभोक्ता को 45000 कर्मचारी सेवाएं दे रहे थे, लेकिन आज हालत इतनी पतली हो गई है कि 20 लाख उपभोक्ताओं को मात्र 17000 व्यक्ति ही सेवाएं दे पा रहे हैं।

पदोन्नति की सीमा 7 साल से घटाकर 5 साल की जाए

संघ के सलाहकार ने कहा कि लाइनमैन से फोरमैन की पदोन्नति की सीमा को 7 साल से घटाकर 5 साल किया जाए तथा 300 पदों को शीघ्र भरा जाए। उन्होंने कहा कि तकनीकी कर्मचारियों को मोबाइल अलाउंस शीघ्र दिया जाए व बोर्ड के अधिकारियों का मोबाइल भता बंद किया जाए।उन्होंने कहा कि सीएम ने भी प्रबंधन वर्ग को मोबाइल भत्ते के लिए एक लिस्ट देने की बात कही थी, लेकिन प्रबंधन वर्ग ने सीएम के निर्देश को भी दरकिनार कर दिया जो कि प्रबंधन हठधर्मिता को दर्शाता है। शर्मा ने कहा कि उन्होंने बोर्ड को 47 सूत्रीय मांग पत्र सौंपा था, उन मांगों को पूरा करने के लिए 11 सितंबर का समय दिया गया था और शेष 3 दिन ही बचे हैं, अगर इन मांगों को न माना गया तो आगे की रणनीति तैयार की जाएगी।

कुलदीप ने कहा कि भारतीय मजदूर संघ की 17 सितंबर को शिमला में होने वाली विरोध रैली में तकनीकी कर्मचारी संघ जोर-शोर से हिस्सा लेगा, जिसके तहत उन्होंने जिला कांगड़ा के फतेहपुर, ज्वाली ,डमटाल, शाहपुर, नूरपुर व जसूर के कर्मचारियों से संपर्क किया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है