- Advertisement -

स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड ने याद किए स्व. ओपी भारद्वाज

यूनियन के संस्थापक की 36वीं पुण्यतिथि पर दी भावभीनी श्रद्धांजलि

0

- Advertisement -

डॉ. चांद भारद्वाज, नगरोटा बगवां। हिमाचल प्रदेश स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड इंप्लाइज यूनियन ने मंगलवार को यूनियन के संस्थापक नेता स्व. ओपी भारद्वाज की 36वीं पुण्यतिथि पर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके कार्यों को याद किया। बता दें कि हिमाचल प्रदेश स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड इंप्लाइज यूनियन का गठन स्व. ओपी भारद्वाज के नेतृत्व में 1971 में मंडी में किया गया था और इस यूनियन की प्रदेश के विभिन्न कर्मचारी आंदोलनों में अहम भूमिका रही है।

इस अवसर पर यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप सिंह खरवाड़ा. महासचिव हीरा लाल वर्मा के अतिरिक्त यूनियन के पदाधिकारी सुनीता कुमारी, मनोज सूद, पवन मोहिल, जेगमेल ठाकुर, अनिल वर्मा, कमलेश शर्मा, जेके धीमान, स्थानीय इकाई के हंसराज, कपिल कुमार, हरनाम सिंह भी उपस्थित रहे। इस अवसर पर यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप खरवाड़ा ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा प्रस्तावित बिजली संशोधन कानून 2018 के प्रभाव में आने से प्रदेश के बिजली क्षेत्र में इसका विपरीत प्रभाव पड़ेगा।

बोर्ड विघटित होकर सभी कार्यों को अलग अलग करने के साथ वितरण के कार्यों को छोटी-छोटी कंपनियों में बांटना अनिवार्य हो जाएगा। इस अवसर पर यूनियन के महासचिव ने कहा कि बिजली बोर्ड में मानव रहित विद्युत उपकेंद्र आज कर्मचारियों के अभाव के कारण दयनीय स्थिति में हैं और इनके रखरखाव में भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि बोर्ड प्रबंधक वर्ग द्वारा इसके लिए पद वर्ष 2017 में अनुमोदित कर दिए थे, लेकिन प्रबंधन में बदलाव के कारण अभी तक इसकी अधिसूचना जारी नहीं हो पाई। उन्होंने इसके लिए प्रस्तावित विभिन्न श्रेणियों के 350 पदों के शीघ्र भरने की मांग की है।

- Advertisement -

Leave A Reply