Covid-19 Update

2,00,603
मामले (हिमाचल)
1,94,739
मरीज ठीक हुए
3,432
मौत
29,944,783
मामले (भारत)
179,349,385
मामले (दुनिया)
×

छोटी उम्र में तनाव से हो सकता है डिप्रेशन का खतरा

छोटी उम्र में तनाव से हो सकता है डिप्रेशन का खतरा

- Advertisement -

नई दिल्ली। एक अध्ययन में पाया गया है कि प्रारंभिक जीवन में प्रतिकूल परिस्थितियों (Adversities) का सामना करने से लोगों को नकारात्मक सोच विकसित होने का खतरा हो सकता है, जिससे बड़ी अवसादग्रस्तता (Depressive disorder) हो सकती है। न्यूरोसाइकोफार्माकोलॉजी (Neuropsychopharmacology) पत्रिका में प्रकाशित निष्कर्ष, 1960 के दशक में प्रस्तावित काम का समर्थन करने के लिए जैविक और मनोवैज्ञानिक साक्ष्य प्रदान करते हैं।

यह भी पढ़ें :- गर्मियों में होने वाली स्किन प्रोब्लम्स से यूं पाएं छुटकारा, आजमाएं ये तरीके

ब्रिटेन में यूनिवर्सिटी ऑफ ब्रिस्टल के शोधकर्ताओं ने प्रारंभिक जीवन प्रतिकूलता के एक कृंतक मॉडल का उपयोग करके यह दिखाया कि तनाव हार्मोन, कॉर्टिकोस्टेरोन (corticosterone) के साथ इलाज किए जाने पर संतान अपने संज्ञान में नकारात्मक जीवों के प्रति अधिक संवेदनशील होते हैं। शोध से पता चला है कि कॉर्टिसोस्टेरोन की एक खुराक का सामान्य चूहों में कोई प्रभाव नहीं था, लेकिन शुरुआती जीवन के प्रतिकूल जानवरों में एक नकारात्मक पूर्वाग्रह का कारण बना। अध्ययन में यह भी पाया गया कि प्रारंभिक जीवन प्रतिकूल चूहों को सकारात्मक घटनाओं की आशंका कम थी और इनाम मूल्य के बारे में ठीक से जानने में विफल रहे।


इनाम से संबंधित अनुभूति में ये हानि विशेष रूप से दिलचस्प हैं क्योंकि अवसाद की मुख्य विशेषताओं में से एक है, पहले से सुखद गतिविधियों में रुचि का नुकसान। निष्कर्ष इस विचार का समर्थन करते हैं कि उन लोगों में मूड डिसऑर्डर के विकास के जोखिम हो सकते हैं, जिनके बारे में वे सीखते हैं और अपनी यादों का उपयोग करते हैं कि कैसे एक अनुभव को पुरस्कृत किया गया है और फिर उन्हें गतिविधि दोहराने के लिए प्रेरित करें। शोधकर्ताओं का सुझाव है कि ये तंत्रिका-संबंधी प्रभाव यह समझा सकते हैं कि शुरुआती जीवन की प्रतिकूलता लोगों को अवसाद विकसित करने की अधिक संभावना क्यों बना सकती है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है