Covid-19 Update

1,37,766
मामले (हिमाचल)
1,02,285
मरीज ठीक हुए
1965
मौत
22,992,517
मामले (भारत)
159,607,702
मामले (दुनिया)
×

प्राईवेट Buses की हड़ताल ने परेशान कर दिए लोग -HRTC ने नहीं रखा सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल

प्राईवेट Buses की हड़ताल ने परेशान कर दिए लोग -HRTC ने नहीं रखा सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल

- Advertisement -

हमीरपुर। प्राइवेट बस ऑपरेटरों ( Private bus operators) की हड़ताल से लोगों को खासी परेशानी उठानी पड़ रही है। खासकर ग्रामीण रूट पर चलने वाली बसों ( Buses) के पहिए थम जाने से लोग आज परेशानी से गुजर रहे हैं। हालांकि,एचआरटीसी( HRTC) की बसें चल रही हैं,लेकिन प्राइवेट बस आपरेटर कह रहे हैं कि इनमें सोशल डिस्टेंसिंग ( Social Distancing) का ख्याल नहीं रखा जा रहा है।


ये भी पढ़ेः कांगड़ा को छोड़ हिमाचल में Private Bus सेवा ठप-ऑपरेटर गए हड़ताल पर

टैक्स माफ करने को लेकर हिमाचल प्रदेश में प्राइवेट बस ऑपरेटरों ने आज हड़ताल ( strike) करने का फैसला लिया हुआ है। जिसके चलते लोगों को आवाजाही में खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। निजी बस ऑपरेटरों की हड़ताल का असर हमीरपुर जिला( Hamirpur District) में भी देखने को मिला । जिसमें जिलाभर के लोगों को आवाजाही करने में खासी मशक्कत करनी पड़ी। लोगों को निजी वाहनों में आवाजाही करनी पड़ रही है। वहीं हमीरपुर में एचआरटीसी के क्षेत्रीय प्रबंधक सभी रूटों पर सरकारी बसों दौड़ाने का दावा कर रहे हैं।

हड़ताल के चलते हमीरपुर जिला में ग्रामीण क्षेत्रों को आवाजाही में खासी परेशानी झेलनी पड़ी। ग्रामीण क्षेत्रों के रूटों पर अधिकतर बसें निजी बस ऑपरेटरों द्वारा चलाई जाती हैं।कुन्ना निवासी सूरज सिंह की माने तो निजी बसें न चलने से उन्हें काफी परेशानी आई । उन्होंने कहा कि गरीब आदमी निजी वाहन( Private vehicle) भी नहीं कर सकता ।

ये भी पढ़ेः सरकार की बंदिशों ने रुष्ट किए Himachal के शैला देवता ब्रह्मा-पहुंचे डीसी ऑफिस कुल्लू

उन्होंने कहा कि जल्द प्राइवेट बस ऑपरेटरों की हड़ताल को सरकार समाप्त करे ताकि आम जनता परेशान ना हो। वहीं,साहिल का कहना कि निजी बसों की हड़ताल से उन्हें आवाजाही में काफी परेशानी पेश आई है। सरकार को जल्द से जल्द प्राइवेट बस ऑपरेटरों की मांग का निपटारा करना चाहिए।

पूनम कुमारी और निखिल बजाज ने कहा कि उन्हें बसें ना मिलने से काफी परेशानी पेश आई उन्होंने सरकार से मांग की है कि जल्द से जल्द प्राइवेट बस ऑपरेटरों की समस्या का हल किया जाए। निजी बस चालक रमेश चंद का कहना कि सरकार ने वादा किया था कि टैक्स माफ किया जाएगा,लेकिन अभी तक सरकार ने प्राइवेट बस ऑपरेटरों का कोई टैक्स माफ नहीं किया । जिसके चलते हड़ताल की गई है। उन्होने कहा कि सरकारी बसों में सोशल डिस्टेंसिंग का कोई ध्यान नहीं रखा जा रहा है। कोविड 19 के नियमों की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। दूसरी तरफ एचआरटीसी हमीरपुर के क्षेत्रीय प्रबंधक विवेक लखनपाल की माने तो उन्होंने बताया कि हमीरपुर जिला में सभी रूटों पर सरकारी बसें चलाई गई हैं। ताकि लोगों को आवाजाही में दिक्कत न आए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है