Covid-19 Update

1,98,877
मामले (हिमाचल)
1,91,041
मरीज ठीक हुए
3,382
मौत
29,548,012
मामले (भारत)
176,842,131
मामले (दुनिया)
×

कम अंक पर दो सुसाइड: एक 82% के बाद लटका, दूसरे ने मार ली गोली

कम अंक पर दो सुसाइड: एक 82% के बाद लटका, दूसरे ने मार ली गोली

- Advertisement -

सोनीपत। हरियाणा के सोनीपत (Sonipat) में एक लड़के ने खुदखुशी कर ली। बताया जा रहा है कि लड़का हरियाणा बोर्ड (Haryana Board) की 12वीं कक्षा में 82 प्रतिशत अंक लाकर भी हताश था। अपने रिजल्ट से परेशान लड़के ने फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली। पुलिस को युवक का शव पंखे से झूलते हुए मिला। इस घटना से फिर एक बार सवाल उठता है कि क्या बच्चों के ऊपर पढ़ाई और अच्छे अंक लाने का दबाव कहीं उन पर हावी तो नहीं हो रहा है।

 


यह भी पढ़ें: देखें गजब वीडियो : चार पैरों पर दौड़ती है ये महिला, घोड़े सी रफ्तार

थाना प्रभारी राजेश कुमार (Rajesh Kumar) ने बताया कि कुछ दिनों से लड़का काफी परेशान रहता था। उसने खुद को एक कमरे में बंद भी कर लिया था। घरवालों ने बहुत देर तक दरवाज़ा खुलवाने की कोशिश की मगर जब कोई हरकत नहीं हुई तो उन्होंने दरवाज़ा तोड़ दिया। पर तब तक बहुत देर हो चुकी थी और युवक ने खुद को पंखे से लटका लिया था। उसे उतार कर अस्पताल ले जाया गया जहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

 

यह भी पढ़ें: गर्मी में ठंडा पानी बांटता है रोबोट, बड़े साइंटिस्ट नहीं छोटे बच्चों ने किया अविष्कार

 

कम नंबर आने के कारण आत्महत्या का एक और मामला चरखी और दादरी से भी सामने आया। यहां पर एक लड़के ने कम नंबर आने की वजह से अपने पिता की बन्दूक से खुद को गोली मार ली। मनोचिकित्‍सक और विशेषज्ञों की मानें तो बोर्ड के अंक जीवन में सिर्फ 5 से 7 फीसदी मायने रखते हैं। बच्चों के ऊपर माता-पिता और समाज का दबाव उनके मनचाहे अंक ना आने पर डिप्रेशन (Depression) में ले जाता है और वह ऐसे गलत कदम उठाने के लिए मजबूर हो जाते हैं।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है