Covid-19 Update

2,18,314
मामले (हिमाचल)
2,12,899
मरीज ठीक हुए
3,653
मौत
33,678,119
मामले (भारत)
232,488,605
मामले (दुनिया)

4 करोड़ की स्कॉलरशिप पर US में पढ़ रही छात्रा की UP बाइक हादसे में मौत, मनचले कर रहे थे पीछा

4 करोड़ की स्कॉलरशिप पर US में पढ़ रही छात्रा की UP बाइक हादसे में मौत, मनचले कर रहे थे पीछा

- Advertisement -

नोएडा। अमेरिका (US) में पढ़ाई के लिए लगभग 4 करोड़ की स्कॉलरशिप (Scholarship) पा चुकीं उत्तर प्रदेश (UP) की 20-वर्षीय सुदीक्षा भाटी (Sudeeksha Bhati) की कथित तौर पर छेड़छाड़ करने वालों द्वारा पीछा करने के दौरान बाइक से फिसलने के कारण मौत (Death) हो गई। ये घटना सोमवार की है। सुदीक्षा भाटी की सड़क हादसे में उस वक्त मौत हो गई जब बुलेट सवार युवक स्कूटी पर जा रही सुदीक्षा से छेड़छाड़ कर रहा था। सुदीक्षा के घर वालों का आरोप है कि बुलेट सवार युवक बार-बार स्कूटी को ओवरटेक कर रहा था।

चाय की दुकान चलाते हैं पिता, बेटी ने किया था 12वीं में जिला टॉप

इसके बाद बुलेट सवार युवक ने आगे आकर अचानक ब्रेक मारा, फिर स्कूटी को ब्रेक मारने के चक्कर में सुदीक्षा और उसके चाचा सड़क पर गिर गए। इस दौरान मौके पर ही छात्रा की मौत हो गई। जब ये हादसा हुआ तब सुदीक्षा अपने चाचा के साथ औरंगाबाद जा रही थीं। सुदीक्षा के पिता चाय विक्रेता हैं। वह लॉकडाउन के कारण जून में भारत आई थीं और 20 अगस्त को उन्हें अमेरिका लौटना था। साल 2018 में सुदीक्षा ने इंटरमीडियट परीक्षा में टॉप करके इलाके का मान-सम्मान बढ़ाया था। परीक्षा में टॉप करने के बाद सुदीक्षा को 3.8 करोड़ रुपये की स्कॉलरशिप मिली थी। सुदीक्षा को बैबसॉन कॉलेज में पढ़ाई के लिए यह छात्रवृत्ति मिली थी, जिसके बाद सुदीक्षा पढ़ाई के लिए अमेरिका गई थीं। उन्होंने सीबीएसई बोर्ड परीक्षा में 98 फीसदी अंक हासिल किए थे।

यह भी पढ़ें: Sanitize किए हाथों से चूल्हा जलाने पर झुलसी युवती की IGMC में मौत

पुलिस ने कहा- दुर्घटना का है मामला; घरवालों ने लगाए आरोप

पुलिस द्वारा इस मामले के बारे में जानकारी देते हुए बताया गया कि ये दुर्घटना का मामला है और बाइक सुदीक्षा का चचेरा नाबालिग भाई निगम चला रहा था और उन्होंने हेलमेट भी नहीं पहना था। यह कहा गया है कि अनियंत्रित बाइक लड़का संभाल नहीं पाया और आगे खड़ी बाइक से टक्कर हो गई। इसके बाद सुदीक्षा बाइक से गिरने से सुदीक्षा के सिर में चोट लगी। सूचना पर उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मृत्यु हो गई। वाहिओन, इस मामले पर सुदीक्षा के पिता जितेंद्र भाटी का यह भी आरोप है कि बुलंदशहर पुलिस ने अब तक किसी तरह का कोई सहयोग नहीं किया है। उनका कहना है कि सड़क हादसे के बाद जब पोस्टमार्टम हुआ तो उसके बाद मृत शरीर को घर तक लाने के लिए पुलिस की ओर से एंबुलेंस तक मुहैया नहीं कराई गई।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखने के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Channel 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है