Covid-19 Update

58,460
मामले (हिमाचल)
57,260
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,046,914
मामले (भारत)
113,175,046
मामले (दुनिया)

Geology स्नातकोत्तर छात्र बोले, Govt और चयन आयोग ने किया धोखा

Geology स्नातकोत्तर छात्र बोले, Govt और चयन आयोग ने किया धोखा

- Advertisement -

कांगड़ा। जियोलॉजी  में स्नातकोत्तर कर चुके छात्रों ने प्रदेश सरकार व एचपी पब्लिक सर्विस कमीशन पर धोखा करने का आरोप जड़ा है। छात्रों का कहना है कि 2004 के बाद जियोलॉजी सेट की परीक्षा नहीं ली गई है और चयन आयोग ने एसीस्टेंट प्रोफेसर जियोलॉजी की 6 पोस्ट निकाल दी हैं। छात्रों ने मांग की है कि सेट की परीक्षा करवाने के बाद उक्त पोस्टें भरी जाएं। अन्यथा हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया जाएगा।

बिना सेट लिए निकाल दी एसीस्टेंट प्रोफेसर की पोस्टें

जियोलॉजी  में स्नातकोत्तर कर चुके छात्रा में शिल्पा, ममता, नवजोत, नेहा, दिनेश, सुनील, प्रशांत , नेहा तलवाड़, सतीश कुमार व दिपिका आदि का कहना है कि प्रदेश के छात्रों के साथ एक बार फिर से प्रदेश सरकार ने एसीस्टेंट प्रोफेसर जियोलॉजी  की 6 पोस्ट निकाल कर धोखा करने का प्रयास किया है। गौरतलब है कि जिस एचपी पब्लिक सर्विस कमीशन को आज 6 पोस्ट  एसीस्टेंट प्रोफेसर की अधिसूचित करने की याद आई, उसी चयन आयोग को गत 2004 से भू-गर्भ विज्ञान के स्नातकोत्तर कर चुके छात्रों की याद नहीं आई, जोकि पलके बिछा कर सेट की परीक्षा के इंतजार कर रहे थे। क्या यह छात्रों, खासकर प्रदेश के छात्रों के साथ धोखा नहीं है, जिन्हें सेट की परीक्षा से वंचित रखा गया।

सेट परीक्षा के लिए लंबे अरसे से कर रहे हैं मांग

स्नातकोत्तर कर चुके छात्र पिछले काफी अरसे से चयन आयोग को पत्र लिखकर सेट की परीक्षा करवाने की मांग कर रहे हैं। परंतु मांग पर गौर नहीं किया गया। पहले सेट न निकालकर धोखा किया और आज उससे बड़ा धोखा एसीस्टेंट प्रोफेसर की पोस्टें निकाल कर किया है। प्रदेश में रहने वाले छात्रों ने इतनी मेहनत से जियोलॉजी में स्नातकोत्तर की पढ़ाई की है, उनकी क्या गलती है। छात्रों ने आरोप लगाया है कि पिछले लंब अरसे से चयन आयोग ने सेट की परीक्षा नहीं ली है, तो पोस्टें निकाल कर क्या विशेष छात्रों को फायदा व कुछ विशेष स्थानीय छात्रों को क्षति पहुंचाने के इरादे से कार्य हो रहा है।

छात्रों ने हाईकोर्ट जाने की दे डाली चेतावनी

पोस्टें निकालने का विरोध नहीं है, लेकिन सवाल यह है कि चयन आयोग को प्रदेश के छात्रों को समान अवसर नहीं देना चाहिए। चयन आयोग सेट की परीक्षा करवाने के बाद पोस्टें भरने का कार्य करे। नहीं तो प्रदेश के छात्र, जिन्हें इस अवसर से वंचित रखा है, उन्हें हाईकोर्ट की शरण में जाने को मजबूर होना पड़ेगा। बता दें कि एचपी पब्लिक सर्विस कमीशन ने जियोलॉजी सहित अन्य विषयों के लिए एसीस्टेंट प्रोफेसर कॉलेज केडर की 204 पोस्टें निकाली हैं। पोस्टों के लिए 31 जुलाई तक ऑनलाइन आवेदन किए जा सकते हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है