Covid-19 Update

2,18,000
मामले (हिमाचल)
2,12,572
मरीज ठीक हुए
3,646
मौत
33,617,100
मामले (भारत)
231,605,504
मामले (दुनिया)

सीमा से सटे संवेदनशील क्षेत्रों के छात्रों को NCC में शामिल होने के लिए करेंगे प्रेरित

सीमा से सटे संवेदनशील क्षेत्रों के छात्रों को NCC में शामिल होने के लिए करेंगे प्रेरित

- Advertisement -

शिमला। शिक्षा मंत्री गोविन्द सिंह ठाकुर( Education Minister Govind Singh Thakur) ने आज यहां प्रदेश के शैक्षणिक संस्थानों में राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) की विभिन्न गतिविधियों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि प्रदेश की अन्तरराष्ट्रीय सीमा के साथ लगते संवेदनशील क्षेत्रों के विद्यालयों और महाविद्यालयों के छात्रों को एनसीसी( NCC) में शामिल होने के लिए प्रेरित किया जाएगा। गोविन्द सिंह ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार की बजट घोषणा में एनसीसी के युवाओं को फौज/पैरामीलिट्री और पुलिस सेवाओं( Police Services) में भर्ती के लिए प्रोत्साहन के लिए आवश्यक बटालियन और कंपनियां स्थापित करने का प्रावधान रखा गया था। इसके लिए केंद्र ने प्रदेश के रामपुर और डलहौजी स्थित एनसीसी कंपनियों को बटालियन में स्तरोन्नत करने की स्वीकृति प्रदान की है। इससे प्रदेश के और अधिक कैडेट ‘बी’और ‘सी’ प्रमाण पत्र का लाभ प्राप्त कर सकेंगे।उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार धर्मशाला, ऊना और शिमला की एनसीसी कंपनियों ( NCC Companies)को भी बटालियन में स्तरोन्नत करने के लिए प्रयासरत है। प्रदेश के सरकारी विद्यालयों के साथ निजी विद्यालयों के बच्चों को एनसीसी की गतिविधियों में सम्मिलित होने के लिए प्रेरित किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: परीक्षा टालने की मांग के बीच NTA ने NEET परीक्षा के लिए जारी किया एडमिट कार्ड; ये रहा लिंक

शिक्षा मंत्री ने कहा कि प्रदेश के 314 विद्यालयों और 64 महाविद्यालयों के 24 हजार 681 कैडेट्स को एनसीसी के अन्तर्गत प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है। प्रदेश में वर्तमान में एनसीसी की तीन बटालियन, सात कंपनियां, एक एनसीसी एयर स्क्वाड्रन और एक एनसीसी नेवल यूनिट कार्यरत है। प्रदेश में मंडी जिला के बल्ह में एनसीसी अकादमी स्थापित करने के लिए भूमि चयनित की जा चुकी है, जिसमें से 17.19 बीघा भूमि शिक्षा विभाग को स्थानांरित कर दी गई है। इस अकादमी के स्थापित होने से प्रदेश के एनसीसी कैडेट्स को प्रदेश में ही प्रशिक्षण की सभी विशेष सुविधाएं उपलब्ध हो जाएगी। गोविन्द सिंह ठाकुर ने कहा कि कोविड-19 महामारी के दौरान एनसीसी कैडेट्स ने मास्क का उपयोग करने तथा सामाजिक दूरी का पालन करने के बारे में लोगों को जागरूक करने में अहम भूमिका निभाई है। इस अवसर पर शिक्षा सचिव राजीव शर्मा, प्रधान मुख्य अरण्यपाल वन अजय कुमार, पुलिस महानिरीक्षक सशस्त्र पुलिस एवं प्रशिक्षण जेपी सिंह, निदेशक उच्चत्तर शिक्षा डॉ. अमरजीत कुमार शर्मा और एनसीसी ग्रुप हिमाचल ग्रुप कमाण्डर ब्रिगेडियर राजीव ठाकुर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है