Covid-19 Update

58,800
मामले (हिमाचल)
57,367
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,137,922
मामले (भारत)
115,172,098
मामले (दुनिया)

जनमंच में एनएसएस के छात्रों से धुलवाए बर्तन, प्रभारी बोले-केंद्र सरकार का आदेश

जनमंच में एनएसएस के छात्रों से धुलवाए बर्तन, प्रभारी बोले-केंद्र सरकार का आदेश

- Advertisement -

राजा का तालाब। फतेहपुर के राजा के तालाब में जनमंच कार्यक्रम (Janmanch Program) में एनएसएस के छात्रों (NSS Students) से जूठे बर्तन धुलवाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल हो रहा है। वहीं, डीसी कांगड़ा (DC Kangra) ने मामले में कार्रवाई की बात की है। हालांकि, एनएसएस प्रभारी का कहना है कि एनएसएस वालंटियर से बर्तन धुलवाने का कार्य करवाया जा सकता है।


यह भी पढ़ें: सड़क किनारे चल रहे राहगीर को कार ने मारी टक्कर, पीजीआई ले जाते मौत

 

ऐसे केंद्र सरकार के आदेश हैं। बता दें कि राजा का तालाब में जनमंच का आयोजन किया गया था। इसमें उद्योग मंत्री बिक्रम ठाकुर मुख्यातिथि थे। कार्यक्रम में छात्रों से जूठे बर्तन धुलवाए गए। जबकि जनमंच के लिए बाकायदा सरकार की ओर से पैसा व बजट जारी होता है।

छात्रों से बर्तन धुलाने का वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा है। लोगों में चर्चा है कि यह एनएसएस के वालंटियर हैं, लेकिन जब पैसा आता है तो छात्रों से ऐसा काम करवाना कहां तक उचित है। यह छात्र उसी स्कूल (School) के हैं, जहां पर कार्यक्रम का था। लोगों में चर्चा है कि अगर खाना बनाने के लिए सरकारी व विभाग किसी पार्टी को हायर कर रहा है तो बर्तन धोने का जिम्मा भी खाना बनाने के लिए हायर की एजेंसी का होना चाहिए।

डीसी कांगड़ा राकेश प्रजापति का‌ कहना है कि खाने व कार्यक्रम के लिए सरकार से बजट आता है। छात्रों से बर्तन धुलवाए गए हैं, इस पर कार्रवाई की जाएगी। एसडीएम फतेहपुर बलवान चंद (SDM Fatehpur Balvan chand) का कहना है कि उन्होंने बच्चों को काम करने को नहीं कहा था। वहीं, एनएसएस प्रभारी सुदर्शन का कहना है कि एनएसएस के बच्चों से चुनाव से लेकर बर्तन धुलाने का कार्य करवाया जा सकता है, यह केंद्र सरकार के आदेश हैं।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है