Covid-19 Update

59,014
मामले (हिमाचल)
57,428
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,190,651
मामले (भारत)
116,428,617
मामले (दुनिया)

परिवहन मंत्री के गृह जिला में सड़कों में उतरे छात्र, ढालपुर चौक पर दिया धरना

परिवहन मंत्री के गृह जिला में सड़कों में उतरे छात्र, ढालपुर चौक पर दिया धरना

- Advertisement -

कुल्लू। बंजार हादसे के बाद ओवरलोडिड बसों( Overloaded buses)पर चले प्रशासन के डंडे का सीधा असर छात्रों पर पड़ा है। रोज बस में स्कूल- कॉलेज आने वाले छात्रों को बसों में सीट न मिलने के कारण परेशानी हो रही हैं। इसी से गुस्साए परिवहन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर( Transport Minister Govind Singh Thakur) के गृह जिला के छात्र मंगलवार को सड़कों पर उतर आए और प्रदेश सरकार व प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

 

ये भी पढ़ेः किन्नौर में एनएच-5 पर दरकी पहाड़ी, मार्ग आवाजाही के लिए बंद…

 

इस दौरान छात्रों ने ढालपुर प्रदर्शनी मैदान से डीसी ऑफिस तक रोष रैली निकाली और डीसी ऑफिस( DC Office) के बाहर आधे घंटे तक जोरदार नारेबाजी की। जिसके बाद स्कूली छात्रों ने डीसी डॉ. ऋचा वर्मा( DC Dr. Richa Verma) को ज्ञापन देकर महाराजा कोठी ,पाहनाला दोहरानाला क्षेत्र के लिए छात्रों की सुविधा के लिए अतिरिक्त बसें ( Extra buses) चलाने की मांग की।

डीसी ने सभी स्कूली छात्रों को समस्या के समाधान का आश्वासन दिया। छात्रों का कहना है कि इन इलाकों के लिए सुबह- शाम एक बस जाती है, जिसमें छात्रों को यातायात की सुविधा नहीं मिल रही है और बंजार हादसे के बाद उन्हें बस में नहीं बैठाया जा रहा है क्योकि बसे बस स्टैंड से पहले ही सवारियों से भरी होती है। छात्रों को पिछले 5 दिनों से पैदल सफर करना पड़ रहा है। कुल्लू जिला में सबसे ज्यादा दिक्कतों का सामना स्कूल- कालेज के छात्रों करना पड़ रहा है । ऐसे में बच्चों ने कई स्थानों पर स्कूल जाना बंद कर दिया है।

छात्रों की माने तो उन्हें स्कूल तक पहुंचने के लिए कई किलोमीटर पैदल सफर तय करना पड़ रहा है जबकि शाम को छुट्टी होने के बाद घर पहुंचना उनके लिए परेशानी बनी हुई है। लगवैली, खराहल घाटी भुंतर मणिकर्ण सैंज बंजार और आनी जैसे ग्रामीण क्षेत्रों से स्कूली छात्र-छात्राएं पैदल स्कूल तक पहुंची। हाल यह है कि छात्रों के लिए निजी और सरकारी बसें तक नहीं रोकी जा रही है। छात्रों का कहा है कि ओवर लोडिंग न हो इसके लिए छात्रों के लिए अतिरिक्त बसें चलाई जाए।

डीसी ऋचा वर्मा ने बताया कि पिछले सभी स्टेक होल्डर( Steak holder) के साथ बैठक की है कि पूरे जिला में बसों की कमी को लेकर एसडीएम व आरटीओ को निर्देश दिए है कि जहां के लिए नए रूट की जरूरत है उनको आईडेंटिफाई करें। सोमवार को भी छात्रों ने धरना दिया था, जिसके बाद छात्रों के लिए यातायात के लिए इंतजाम किया गया। उन्होंने कहा कि जिला इसके लिए प्रयास किया जा रहा है कि जनता को असुविधा ना हो। उन्होंने कहा कि जिला में प्राइवेट ऑपरेटस के ऐसे कई रूटस है, जिन पर वे बसें नहीं चला रहे हैं। उनकी जांच की जा रही है। प्राइवेट बस ऑपरेटर जिन रूटों पर बसें नहीं चला रहे हैं , उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी ताकि जनता को परेशान ना हो।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है