×

जमटा में डेढ़ घंटा चक्का जाम, गुस्साए स्टूडेंट्स-ग्रामीणों ने रोका यातायात

जमटा में डेढ़ घंटा चक्का जाम, गुस्साए स्टूडेंट्स-ग्रामीणों ने रोका यातायात

- Advertisement -

नाहन। सीटिंग कैपेसटी के अलावा बसों में सवारियां न बिठाने पर स्टूडेंट्स ( Students) ही नहीं आम जनता भी परेशान हो चुकी है। बस स्टाप ( Bus Stop)पर बसें न रोके जाने से खफा ग्रामीणों व स्टूडेंट्स ने बुधवार को धारटीधार इलाके के जमटा में जमकर प्रदर्शन ( Protest)किया। नाहन-ददाहू सड़क पर लोगों ने करीब डेढ़ घंटा जाम ( Traffic Jam) लगाए रखा। इस दौरान सड़क के दोनों ओर दर्जनों बसें व छोटे बड़े वाहन भी जाम में फंसे रहे। जमटा में बारिश के बीच भी बच्चों व ग्रामीणों ने जाम नहीं खोला। पुलिस को इसकी सूचना मिलते ही सदन थाना नाहन के एसएचओ मानवेंद्र ठाकुर टीम के साथ मौके पर पहुंचे।


यह भी पढ़ें :-चैक बाउंस के मामले में छह माह की कैद और दो लाख जुर्माना


हालांकि, उन्होंने जाम खोलने के भरसक प्रयास किए। लेकिन, लोग नहीं मानें। काफी जद्दोजहद के बाद साढ़े 11 बजे के बाद जाम खोला गया। इस बीच एसएचओ ने एचआरटीसी के अड्डा प्रभारी नाहन से जमटा के लिए अतिरिक्त बस भेजने की सिफारिश की। स्टूडेंट्स और ग्रामीणों ने कहा कि आज भले ही एक अतिरिक्त बस भेजकर जाम खुलवा दिया जाएगा, लेकिन यह परेशानी आम जनता पिछले एक माह से झेलती आ रही है। एचआरटीसी के ड्राइवर व कंडक्टर ओवरलोडि़ंग के चालान के डर से किसी भी स्टेशन से एक्स्ट्रा सवारियां नहीं बिठा रहे हैं। इसका खामियाजा छात्रों व लोगों को भुगतना पड़ रहा है।

छात्रों की हर रोज कक्षाएं छूट रही हैं। समय पर कालेज व आईटीआई न पहुंचने पर फाइन किए जा रहे हैं। आम जनता के साथ-साथ कर्मचारी लोग भी इस परेशानी से दो-चार हो रहे हैं। ग्रामीणों ने कहा कि सरकार ने ओवरलोडि़ंग पर शिकंजा कसने से पहले बस सुविधा भी मुहैया करवानी चाहिए थी। रूटों पर बसों की भारी कमी चल रही है। हजारों लोग बस की इंतजार में दिनभर खड़े रहते हैं। बावजूद इसके भी उन्हें बस में नहीं बिठाया जा रहा है। पुलिस के काफी हस्तक्षेप के बाद लोगों ने जाम खोला। इस दौरान सैंकड़ों ग्रामीणों के साथ साथ आईटीआई व कालेज के दर्जनों छात्र उपस्थित रहे।


जाहिर है कि संगड़ाह में मंगलवार शाम को कॉलेज के छात्र-छात्राओं को एचआरटीसी के कर्मियों द्वारा बसों से उतारे जाने पर छात्रों ने सरकार सहित एचआरटीसी के खिलाफ जमकर नारेबाजी थी। शाम पौने सात बजे तक प्रशासन की ओर से कोई भी अधिकारी अथवा कर्मचारी बस अड्डा अथवा धरना स्थल पर न पहुंचने के चलते छात्रों का गुस्सा और भड़क गया। इसके बाद उन्होंने जाम लगा दिया। करीब डेढ़ घंटे छात्रों ने सड़क पर बैठकर जमकर नारेबाजी की।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है