Covid-19 Update

2,04,887
मामले (हिमाचल)
2,00,481
मरीज ठीक हुए
3,495
मौत
31,329,005
मामले (भारत)
193,701,849
मामले (दुनिया)
×

बंद नाक और गले में खराश

- Advertisement -

सर्दियां आते ही सबसे पहला असर सेहत पर पड़ता है। बदलते मौसम में सबसे पहले नाक और गला बंद होने का खतरा रहता है। जिन लोगों की इम्‍यून‍िटी कमजोर होती है, उन लोगों को जुकाम और ठंड अक्‍सर घेर लेता है। ऐसे में कुछ छोटे और सामान्‍य कारगर तरीकों को अपनाकर आप सेहत की समस्‍याओं से छुटकारा पा सकते हैं।


बंद नाक और गले में हो रही खराश और परेशानी से बचने के ल‍िए जरुरी है क‍ि आप गर्म लिक्विड का सेवन करते रहें। पानी भी हल्का गुनगुना लें। अदरक की चाय, ब्लैक टी, ग्रीन टी और काढ़ा जैसी चीजों का सेवन आपको पलूशन और बदलते मौसम के प्रभाव से बचाएगा।

विक्स के जरिए बंद नाक खोलना सबसे आसान तरीका है। गले पर लगाने से भी यह काफी हद तक राहत देता है। आप बंद नाक और गले की दिक्कत के लिए गर्म पानी में विक्स डालकर उसकी भाप भी ले सकते हैं।

सर्दी से बचने के लिए लहसुन का इस्तेमाल खाने में जरूर करें। हो सके तो दिन में एक बार लहसुन की एक कली को कच्चा चबाकर खाएं। अगर ऐसा ना कर पाएं तो दाल-सब्जी में लहसुन का उपयोग जरूर करें।

जुकाम होने पर दूध पीने के लिए मना किया जाता है लेकिन अदरक डालकर पकाया गया दूध हल्दी मिक्स करके पीने से जुकाम और गले की समस्या में तुरंत राहत देता है। आप सुबह और शाम के वक्त इसका सेवन कर सकते हैं।

एक बड़ा चम्मच शहद में 2 से 3 चुटकी पिसी हुई काली मिर्च मिलाएं और रात को सोने से पहले इसका सेवन करें। ध्यान रखें कि इसे धीरे-धीरे चाटने पर ज्यादा लाभ होगा बजाय इसके कि आप एक बार में खा लें।

जुकाम या बंद नाक होने पर भी तुलसी का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए आप बस ताजा तुलसी के पत्तों को नाश्ते से पहले व रात को भोजन के बाद चबाएं। आप चाहें तो चाय में भी तुलसी के पत्तों का इस्तेमाल करें। इससे आपको काफी लाभ होगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED VIDEO

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है