Covid-19 Update

2,16,906
मामले (हिमाचल)
2,11,694
मरीज ठीक हुए
3,634
मौत
33,477,459
मामले (भारत)
229,144,868
मामले (दुनिया)

जिद्द के आगे बेबस हुई किस्मत : 14 साल जेल में बिताने के बाद भी बना Doctor

जिद्द के आगे बेबस हुई किस्मत : 14 साल जेल में बिताने के बाद भी बना Doctor

- Advertisement -

नई दिल्लीः कहते हैं कि अगर आप मन में कुछ कर लेने की ठान लेते हैं तो आपकी किस्मत भी आपके आगे घुटने टेक देती है। कुछ ऐसा ही कर दिखाया है कर्नाटक (karnataka) के कलबुर्गी के सुभाष पाटिल ने। उन्होंने साबित कर दिखाया कि सपना पूरा करने और जीवन को नए सिरे से शुरू करने में कभी देरी नहीं होती हैं। उन्होंने 14 साल जेल में काटने के बाद भी हिम्मत नहीं हारी और डॉक्टर बनने के अपने सपने को पूरा किया।

यह भी पढ़ें: Jalori Pass पर्यटकों से गुलजार, देश के कोने कोने से पहुंच रहे सैंकड़ो सैलानी

सुभाष पाटिल (Subhash Patil) ने 1997 में MBBS में दाखिला लिया था, लेकिन 2002 में एक हत्या के मामले में जेल हो गई। उस समय सुभाष कलबुर्गी में एमआर मेडिकल कॉलेज में तीसरे वर्ष का छात्र था। जिस शख्स की हत्या (Murder) हुई थी ,उसकी पत्नी और सुभाष की प्रेमिका को इस मामले में सजा हुई थी। फिर उन्होंने जेल में ही ओपीडी में काम किया जेल और डॉक्टरों की सहायता की। स्वास्थ्य विभाग ने जेल में पीड़ित कैदियों के ईलाज में योगदान के लिए 2008 में उन्हें सम्मानित किया था। 2016 में अच्छे आचरण के लिए उन्हें रिहा कर दिया गया । जिसके बाद 2019 में उन्होंने एमबीबीएस पूरी की और अब उन्होंने 1 साल की इंटर्नशिप पूरी कर ली है। लेकिन जेल के अंदर उन्होंने एक बात का ध्यान हमेशा रखा कि वे धैर्य को न खोने दें और ज्यादातर समय विभिन्न पुस्तकों के लगाएं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है