Expand

सुधीर और नड्डा में BIG BOSS कौन, बताएगी जनता

सुधीर और नड्डा में BIG BOSS कौन, बताएगी जनता

- Advertisement -

धर्मशाला। आगामी विधानसभा चुनावों में धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी की तरफ से किसी कद्दावर नेता के चुनावी मैदान में उतरने के कयास लगाए जा रहे हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा का नाम भी धर्मशाला से बीजेपी की टिकट पर चुनाव लड़ने वालों में राजनीतिक गलियारों में चर्चा का विषय है। नड्डा के राजनितिक कद को धर्मशाला के विधायक और प्रदेश के शहरी विकास मंत्री सुधीर शर्मा अपने लिए किसी भी तरह की चुनौती नहीं मानते हैं। सुधीर शर्मा का इस बारे में कहना है कि चुनाव जनता करती है और धर्मशाला में सुधीर या नड्डा में कौन सही प्रत्याशी है इसका फैसला धर्मशाला की जनता करेगी।

  • sudhirBJP किसको उतारेगी यह उनका आंतरिक मामला

सुधीर शर्मा का कहना है कि बीजेपी प्रत्याशी को नकारते हुए, उनको धर्मशाला की जनता ने अपने प्रतिनिधित्व की कमान सौंपी थी। इसलिए जनहित के जो कार्य हैं वह उनको पूरी ईमानदारी से पूरा करने में लगे हुए हैं।

अगले चुनावों में बीजेपी किसे धर्मशाला से विधानसभा का टिकट देती है यह बीजेपी का अंदरूनी मामला है। उनका यह मानना है कि धर्मशाला की जनता को अपने भले बुरे की अच्छी तरह से पहचान है।

  • मेरा काम जनता के कार्य ईमानदारी से करूं वो कर रहा हूं

bjp-logoकांग्रेस प्रत्याशी होने के नाते मैं अपने विकास कार्यों को जनता के सम्मुख रखूंगा और अगली बार किसे विधायक चुनना है इसका फैसला जनता ही करेगी। सुधीर शर्मा ने कहा कि वह अभी आगामी चुनावों के बारे में नहीं सोच रहे हैं, बल्कि उनका ध्यान इस बात पर केंद्रित है कि जनता ने जो जिम्मेदारी उन्हें सौंपी है, बखूबी उसका निर्वहन कर सकूं। सुधीर शर्मा ने कहा कि राजनीति में जनहित में कार्य करने वालों को विरोधियों की फ़िक्र नहीं होती बल्कि जनता की फ़िक्र होती है। इसलिए उनका सारा ध्यान जनता की समस्यायों को हल करने पर है।

गौरतलब है कि पिछले विधानसभा चुनावों में सुधीर शर्मा बैजनाथ विधानसभा क्षेत्र आरक्षित होने के चलते धर्मशाला से चुनाव लड़े थे, उस समय बीजेपी ने उन्हें बाहरी व्यक्ति करार देते हुए पोलिटिक्ल टूरिस्ट कहा था और आरोप लगाया था कि वह धर्मशाला के हितों को दरकिनार करेंगे। बावजूद इसके सुधीर शर्मा ने विरोधियों को पटखनी देकर धर्मशाला में जीत दर्ज की थी।धर्मशाला नगर निगम चुनावों को भी बीजेपी ने सत्ता का सेमीफाइनल कहते हुए यहां जीत दर्ज करने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी। लेकिन, इन चुनावों में भी सुधीर शर्मा ने अपनी ताकत का एहसास करवाते हुए बीजेपी को चारों खाने चित्त करते हुए एकतरफा जीत हासिल कर बीजेपी को चिंतन पर मजबूर कर दिया था। नगर निगम चुनावों में मिली करारी हार के बाद से ही धर्मशाला बीजेपी में नेतृत्व परिवर्तन के स्वर उठने लगे और पार्टी इसपर विचार कर रही है कि किसे मैदान में उतारा जाए जो सुधीर के तिलिस्म को तोड़ सके।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है