Covid-19 Update

1,99,430
मामले (हिमाचल)
1,92,256
मरीज ठीक हुए
3,398
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

कांग्रेस को पच्छाद में मिली ऊर्जा, धर्मशाला पहुंचते-पहुंचते “धक्का” बन गई

कांग्रेस को पच्छाद में मिली ऊर्जा, धर्मशाला पहुंचते-पहुंचते “धक्का” बन गई

- Advertisement -

धर्मशाला। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर (Kuldeep Singh Rathore) ने पच्छाद से जो उर्जा का संचार करना शुरू किया था, वह धर्मशाला (Dharmshala) पहुंचते-पहुंचते ढीला पड़ गया। राठौर ने प्रदेश में होने वाले विधानसभा के दो उपचुनाव को ध्यान में रखते हुए ही दो राज्यस्तरीय कार्यक्रम तय किए थे।

यह भी पढ़ें: मानसून सत्रः भाखड़ा बांध विस्थापितों को लेकर जयराम की बड़ी घोषणा


ये दोनों ही कार्यक्रम उपचुनाव वाले विधानसभा क्षेत्रों में रखे गए थे। इनमें से पहला राज्यस्तरीय कार्यक्रम डॉ. यशंवत सिंह परमार की जयंती पर पच्छाद में हुआ। वहां भी विधानसभा उपचुनाव होना है। पच्छाद से उन्हें व पार्टी को जो उर्जा मिली थी, वह उर्जा धर्मशाला में आते-आते कहीं ना कहीं धक्का बन गई। कहां, पार्टी धर्मशाला से सुधीर शर्मा (Sudhir Sharma) को संभावित प्रत्याशी मानकर चल रही थी, कहां वह पार्टी कार्यक्रम से ही किनारा कर गए।

वहीं, धर्मशाला में आयोजित कार्यक्रम में पार्टी की प्रदेश मामलों की प्रभारी रजनी पाटिल, सहप्रभारी गुरकीरत कोटली व नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री की मौजूदगी ना होना भी कार्यकर्ताओं को खलता रहा। हालांकि, इन तीनों के ना आने के बाजिव कारण हैं। उनमें पार्टी प्रभारी रजनी पाटिल की रिश्तेदारी में किसी का देहांत होना, कोटली का पारिवारिक कारण होना व मुकेश का विधानसभा के चलते ना आना कारण रहे हैं। हालांकि, इसके अलावा इक्का-दुक्का को छोड़कर जिला कांगड़ा के तमाम कांग्रेसी मौजूद रहे।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है