Covid-19 Update

2,05,391
मामले (हिमाचल)
2,01,014
मरीज ठीक हुए
3,503
मौत
31,484,605
मामले (भारत)
196,043,557
मामले (दुनिया)
×

Smart City को मिले Underground Dustbin

Smart City को मिले Underground Dustbin

- Advertisement -

सुधीर शर्मा ने किया उद्घाटन, लोगों को दिया गया डेमो

धर्मशाला। स्मार्ट सिटी की दौड़ में शामिल धर्मशाला में पहला कदम बढ़ाते हुए अत्याधुनिक प्रणाली युक्त स्मार्ट अंडरग्राउंड डस्टबिन स्थापित कर दिए गए हैं।रविवार को दाड़ी में शहरी विकास मंत्री एवं विधायक सुधीर शर्मा ने इनका विधिवत उद्घाटन किया और अंडरग्राउंड डस्टबिन जनता को समर्पित किए। यह विश्व का पहला सेंसर बेस्ड अंडरग्राउंड बिन नेटवर्क है जिसकी शुरुआत धर्मशाला से की गई है। इस दौरान लोगों को इन सेंसर बेस्ड डस्टबिन की कार्यप्रणाली का भी डेमो दिया गया।

स्मार्ट सिटी की घोषणा होने के बाद सुधीर शर्मा पर अक्सर स्मार्ट सिटी का कोई काम नहीं होने के आरोप लगाए जाते रहे हैं, लेकिन सेंसर बेस्ड अंडरग्राउंड डस्टबिन के बाद विरोधी खेमे में भी खमोशी छाई है। इन डस्टबिन को स्थापित करने के लिए नवंबर 2016 में शिलान्यास किया गया था। ठीक 6 महीने बाद इनका उद्घाटन भी कर दिया गया। इस कार्यक्रम के दौरान सुधीर शर्मा के साथ नगर निगम की महापौर रजनी व्यास और उप महापौर दविंदर जग्गी भी मौजूद रहे। इस अवसर पर एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए सुधीर शर्मा ने कहा कि नगर निगम के हर वार्ड में लगाए जा रहे सेंसर युक्त ‘अत्याधुनिक तकनीक वाले भूमिगत कूड़ेदान’ कचरा प्रबंधन को तो बेहतर करेंगे ही साथ ही पर्यावरण और स्वास्थ्य को भी संरक्षित करने में सहायक होंगे।


उन्होंने कहा कि धर्मशाला प्राकृतिक सौन्दर्य के लिए समूचे विश्व में विख्यात है। जनसंख्या व पर्यटकों के आगमन की बढ़ोतरी को देखते हुए आवश्यक मूलभूत सुविधाओं के साथ-साथ शहर की सुन्दरता को बनाए रखने के लिए अत्याधुनिक कूड़ेदान स्थापित किए गए हैं। वर्तमान समय और बदलते हुए परिवेश को ध्यान में रखते हुए, नागरिकों को बेहतर जीवन देने के लिए यह एक महत्वपूर्ण कदम है।

लोगों की सुविधा के लिए स्थापित करेंगे हेल्प डेस्क

उन्होंने कहा कि धर्मशाला को प्रदेश की दूसरी राजधानी बनाने की घोषणा के साथ विकास के नए युग की शुरुआत हुई है, जबकि क्षेत्र के नियोजित विकास के लिए धर्मशाला नगर निगम बनाया गया है। धर्मशाला शहर के विस्तार के लिए हिमुडा ने शहर से बाहरी ओर करीब 900 कनाल भूमि चिन्हित की है।

भविष्य में जरूरत के अनुरूप शहर से बाहरी छोर पर ही नए कार्यालय बनाए जाएंगे ताकि धर्मशाला को भीड़ भाड़ से बचाया जा सके। सुधीर शर्मा ने कहा कि नगर निगम धर्मशाला में लोगों की सुविधा के लिए हेल्प डेस्क स्थापित किया जाएगा। इस पर लोग घर बैठे ही अलग अलग प्रमाणपत्रों व अन्य सुविधाओं के लिए आवेदन कर सकेंगे। इससे उनको कार्यालय में बार बार आने के झंझट से छुटकारा मिलेगा। धर्मशाला शहर की बेहतर सफाई व्यवस्था के लिए शीघ्र ही दो अत्याधुनिक सफाई ट्रक भी खरीदे जाएंगे, जिससे छोटी गलियों व सड़क की सफाई व्यवस्था सुदृढ़ होगी। उन्होंने कहा कि अभी धर्मशाला में स्मार्ट लाइटें पुराने खंबों पर लगाई गई हैं इन खंबों को शीघ्र ही स्मार्ट पोल्स से बदला जाएगा। इसके अतिरिक्त कैंची मोड़ पर पर्यटकों की सुविधा के लिए अलग प्लेटफॉर्म का निर्माण किया जाएगा, जहां से वे कांगड़ा घाटी की सुंदर वादियों को निहार सकेंगे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है