Covid-19 Update

2,05,499
मामले (हिमाचल)
2,01,026
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,526,589
मामले (भारत)
196,267,832
मामले (दुनिया)
×

सुक्खू का वारः हाटी समुदाय की भावनाओं से खेल रही बीजेपी सरकार

सुक्खू का वारः हाटी समुदाय की भावनाओं से खेल रही बीजेपी सरकार

- Advertisement -

पच्छाद। हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष व विधायक सुखविंदर सिंह सुक्खू ने गिरिपार के हाटी समुदाय को एसटी (ST) में शामिल न करने पर बीजेपी सरकार को आड़े हाथों लिया है। उन्होंने कहा कि सरकार इस समुदाय के लोगों की भावनाओं से खेल रही है। सत्ता पाने के लिए तो बीजेपी (BJP) ने गिरिपार क्षेत्र के लोगों को एसटी (ST) में शामिल करने का सपना दिखा दिया, लेकिन अब कोई कार्रवाई नहीं हो रही। सुक्खू ने यह बात पच्छाद विधानसभा क्षेत्र के बागथन पंचायत में कांग्रेस (Congress) प्रत्याशी गंगूराम मुसाफिर के चुनाव प्रचार के दौरान कही।


यह भी पढ़ें: ब्रेकिंगः शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन को आचार संहिता का उल्लघंन करने पर नोटिस जारी, बोले प्रशासनिक


उन्होंने कहा कि केंद्र व प्रदेश में बीजेपी सरकारें होने के बावजूद गिरिपार के लोग खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं। कांग्रेस सत्ता में आने पर हाटी समुदाय को एसटी (ST) का दर्जा देगी। उन्होंने सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) से पूछा है कि केंद्रीय मंत्री की घोषणा के बावजूद एसटी (ST) के दर्जे वाली फाइल कहां गुम हो गई। सुक्खू ने सरकार पर प्रदेश के हितों को बेचने का आरोप भी लगाया। उन्होंने कहा कि सिरमौर हिमाचल निर्माता डॉ. यशवंत सिंह परमार की कर्मभूमि रही है।

परमार ने ही हिमाचल को अलग राज्य बनाने की लड़ाई लड़ी। हिमाचल के हितों को न बेचा जा सके, इसलिए हिमाचल प्रदेश लैंड टेंनेंसी एक्ट 1974 (Himachal Pradesh Land Tenancy Act 1974) बनाया। इसकी धारा-118 के तहत गैर हिमाचली प्रदेश में जमीन नहीं खरीद करते हैं, लेकिन बीजेपी (BJP) सरकार ने सत्ता में आने पर प्रदेश के हितों को बेचना शुरू किया है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है