×

वकीलों पर Supreme Court सख्त, कहा – हर रोज की जा रही न्यायपालिका की हत्या

वकीलों पर Supreme Court सख्त, कहा – हर रोज की जा रही न्यायपालिका की हत्या

- Advertisement -

नई दिल्ली। Supreme Court ने जजों के खिलाफ अविश्वास फैला रहे वकीलों के प्रति अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि ऐसे लोग संस्था की हत्या कर रहे हैं। केरल में मेडिकल कॉलेज दाखिले से जुड़े एक मामले की सुनवाई के दौरान बेंच की अध्यक्षता कर रहे जस्टिस अरुण मिश्रा ने कोर्ट में पेश वरिष्ठ वकील और Supreme Court बार एसोसिएशन के अध्यक्ष विकास सिंह से कहा कि, आज कल किसी को भी नहीं बख्शा जा रहा, एक ही तीर से सब पर निशाना लगाया जा रहा है। कुछ लोग हर व्यक्ति को मार देना चाहते हैं। जस्टिस मिश्रा ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि, लोग कोर्ट में हुई हर बात पर टीवी में चर्चा करना चाहते हैं। जजों को अपमानित किया जा रहा है, हर रोज न्यायपालिका की हत्या की जा रही है। संस्था रहेगी, तभी वकील रहेंगे।


गौरतलब है कि मंगलवार को कांग्रेस के राज्यसभा सांसदों ने अपनी याचिका कोर्ट से वापस ली थी। जिसके बाद सांसदों के वकील कपिल सिब्बल और प्रशांत भूषण द्वारा मीडिया में दिए गए बयान से जस्टिस अरुण मिश्रा नाराज हैं। मामला चीफ जस्टिस को पद से हटाने से जुड़ा होने के चलते चीफ जस्टिस और उनके खिलाफ प्रेस कांफ्रेंस करने वाले 4 वरिष्ठ जज सुनवाई नहीं कर सकते थे, जिसके चलते ये मामला वरिष्ठता में छठे से दसवें नंबर के जजों को सौंपा गया। लेकिन सांसदों के वकील कपिल सिब्बल ने इस बेंच के गठन पर ही सवाल उठा दिया। सुनवाई के दौरान सिब्बल इस बात पर अड़ गए कि उन्हें वो आदेश दिखाया जाए जिसके तहत 5 जजों की बेंच का गठन किया गया। बाद में सिब्बल ने दलीलें रखने से इंकार करते हुए याचिका वापस ले ली। वहीं वकील प्रशांत भूषण ने चीफ जस्टिस को बचाने के लिए बेंच के गठन का आरोप लगाया। बता दें कि, वकीलों के एक वर्ग द्वारा जस्टिस अरुण मिश्रा पर लगातार निशाना साधते रहने के चलते जस्टिस अरुण मिश्रा ने खुद को जज लोया मौत मामले की सुनवाई से अलग कर लिया था।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है