Old Pension Scheme को बहाल करने के लिए सुशांत का पांच को धर्मशाला में सांकेतिक धरना

Old Pension Scheme को बहाल करने के लिए सुशांत का पांच को धर्मशाला में सांकेतिक धरना

- Advertisement -

धर्मशाला। पूर्व मंत्री व बीजेपी के पुराने साथी डॉ राजन सुशांत ( Dr. Rajan Sushant) ने प्रदेश के कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन स्कीम ( Old pension scheme) को बहाल करने के लिए पांच सितंबर को धर्मशाला( Dharmshala) में सांकेतिक धरना देने की बात कही है। ये सांकेतिक धरना सुबह 11 बजे से दो बजे तक दिया जाएगा। इसके लिए उन्होंने सभी विधायकों-मंत्रियों व सांसदों से भी आमजन के साथ इसमें शामिल होने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा है कि उम्र भर सरकार की सेवा में समर्पित कर्मचारियों को तो आर्थिक लाभ देते समय तंगी आती है,  लेकिन विधायकों को वेतन भत्ते देने के लिए सरकार को तकलीफ क्यों नहीं होती है। डॉण् सुशांत ने कहा कि मंत्री- विधायक जबकि कर्मचारियों के मुकाबले 75 गुना ज्यादा वेतन भत्ते और पेंशन ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार अपनी संवैधानिक जिम्मेदारी से भागने के लिए ही आर्थिक तंगी का बहाना बना रही है।


ये भी पढ़ेः Hamirpur नर्सिंग एसोसिएशन ने मेडिकल कॉलेज प्रशासन के खिलाफ खोला मोर्चा- यह है कारण

 

 

डॉ.सुशांत ने कहा कि जब तक प्रदेश की आर्थिक स्थिति नहीं सुधरती तब तक विधायकों-मंत्रियों की भी पेंशन बंद कर देनी चाहिए। डॉ राजन सुशांत ने पत्रकारों से बातचीत में कहा है कि वह खुद भी नैतिकता के तहत इन कर्मचारियों के समर्थन में पेंशन नहीं लेने की घोषणा कर चुके हैं।पूर्व बीजेपी नेता ने कहा है कि सरकार ने एनपीएस कर्मचारियों की पेंशन बहाली की बात नही मानी तो बड़े स्तर पर प्रदेश व्यापी आंदोलन खड़ा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अक्तूबर माह में नई पार्टी का गठन करेंगे। इसके साथ ही उन्होंने जनवरी से प्रदेश में आंदोलन करने की भी बात कही है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है