×

Income Tax Raid पर तापसी पन्नू ने तोड़ी चुप्पी, जवाब में कंगना रनौत पर भी कसा तंज

पांच करोड़ कैश की रसीद मिलने वाली बात पर भी अभिनेत्री ने चुटकी

Income Tax Raid पर तापसी पन्नू ने तोड़ी चुप्पी, जवाब में कंगना रनौत पर भी कसा तंज

- Advertisement -

नई दिल्ली। अभिनेत्री तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) फिल्म निर्देशक अनुराग कश्यप सहित अन्य कई फिल्म हस्तियों के घर हाल ही में आयकर विभाग का छापा ( Income Tax Raid) पड़ा था। इस मामले को लेकर सोशल मीडिया में तापसी और अनुराग (Taapsee and Anurag) के समर्थक सरकार को जमकर घेर रहे हैं। आयकर विभाग के मुताबिक दोनों ही 650 करोड़ रुपए की टैक्स अनियमितता (Tax Irregularity) में संलिप्त रहे हैं। अब आयकर विभाग की रेड मामले में अभिनेत्री तापसी पन्नू ने पहली बार चुप्पी तोड़ी है। रेड और उसके हो रहे घटनाक्रम को लेकर तापसी ने कई बातें कहीं हैं। यही नहीं, तापसी ने इन्हीं ट्विट (Taapsee Tweet) में कंगना रनौत पर भी तंज कसा है।


यह भी पढ़ें:  खूबसूरत पिंक ब्राइडल लहंगे में आईं Alia और हवा में उड़ गईं, देखिए ये मजेदार वीडियो

तापसी पन्नू  (Taapsee Pannu) ने आयकर विभाग की रेड से जुड़े हुए एक के बाद एक तीन ट्विट किए हैं। तापसी पन्नू ने ट्विट में लिखा है कि मुख्य रूप से तीन चीजों की तीन दिनों तक काफी गहनता से खोजबीन की गई। पहली कथित बंगले की चाबी जो पेरिस (Paris) में है, क्योंकि गर्मियों की छुट्टियां आने वाली हैं। इसके बाद तापसी ने ट्विट (Tweet) कर लिखा कि कथित पांच करोड़ रुपये की रसीद (Receipt) को मैं भविष्य के लिए फ्रेम करवाउंगी क्योंकि इससे पहले मैंने यह रकम ठुकरा दी थी। आपको बता दें कि आयकर विभाग के अधिकारियों के हवाले से दावा किया जा रहा है कि तापसी (Taapsee) को पांच करोड़ रुपए नकद भुगतान करने की रसीद बरामद हुई है।

इसके साथ ही तापसी ने अपने ट्विट कंगना रनौत पर तंज कसते हुए लिखा कि माननीय वित्त मंत्री (Finance Minister) के अनुसार 2013 में मेरे यहां छापे पड़े थे। अब सस्ती नहीं रही। यहां तापसी ने कंगना रनौत पर तंज कसा, क्योंकि कंगना रनौत (Kangana Ranaut) कई बार तापसी पन्नू को सस्ती कॉपी कह चुकी हैं। दोनों के बीच ट्विटर में कई बार झगड़े भी हो चुके हैं। उधर, केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पर तापसी ने इसलिए ट्विट किया है क्योंकि छापों को लेकर केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने कहा था कि इन लोगों पर 2013 में भी ऐसी ही कार्रवाई हुई थी, मगर तब किसी ने इसे मुद्दा नहीं बनाया, जैसा अब बनाया जा रहा है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है