- Advertisement -

भ्रष्टाचार, महंगाई पर तपेगा तपोवन, कल सत्ता पक्ष और विपक्ष बनाएंगे रणनीति

विधानसभा का शीतकालीन सत्र 10 से,  होंगी 6 बैठकें

0

- Advertisement -

धर्मशाला। शीतकालीन सत्र को लेकर तपोवन तैयार है। इस बार भ्रष्टाचार, महंगाई व स्कूलों में वितरित होने वाली वर्दियों के मामले आदि मुद्दों पर तपोवन के तपने की उम्मीद है। विपक्ष इन मुद्दों को लेकर सत्ता पक्ष को घेरने की तैयारी में है और सत्ता पक्ष भी विपक्ष के हमलों का जवाब को तैयार है। इसी के चलते कल यानि 9 दिसंबर को सत्ता पक्ष और विपक्ष धर्मशाला में रणनीति बनाएंगे। बीजेपी व कांग्रेस विधायक दल की बैठक में चर्चा करेंगे।
वहीं, विपक्ष के हमलों का जवाब देने के लिए सीएम जयराम ठाकुर के 11 मंत्री विभागीय रिपोर्टस व आंकड़ों के साथ विपक्षी सदस्यों द्वारा उठाए जाने वाले मुद्दों का माकूल जवाब देंगे। पिछले एक वर्ष में प्रदेश में स्थापित नई योजनाओं व पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से निर्मित किए जाने वाले रोप-वे, सामाजिक सुरक्षा पेंशन में बढ़ोतरी सहित केंद्र प्रायोजित योजनाओं को प्रभावी ढंग से प्रदेश में संचालित करने जैसे मुद्दों पर सत्ता पक्ष के मंत्री विपक्ष को चित्त करने का प्रयास करेंगे। धर्मशाला के तपोवन में 10 दिसंबर से 15 दिसंबर तक शीतकालीन सत्र आयोजित होगा।

सत्ता पक्ष ने सचिवालय तो विपक्ष होटल धौलाधार में बनाएगा रणनीति

धर्मशाला के सचिवालय में सीएम जयराम ठाकुर आयोजित बैठक में मंत्रियों व विधायकों को विपक्ष द्वारा उठाए जाने वाले मुद्दों का विवरण सहित जवाब देने के टिप्स देंगे। विपक्ष जिन मुद्दों को जोर-शोर से सदन के भीतर उठाएगा उनके जवाब में बीजेपी सरकार ने सत्र आरंभ होने से पहले ही  तैयारी पूर्ण कर ली है। 9 दिसंबर को बीजेपी व कांग्रेस विधायक दल की बैठक धर्मशाला में रखी गई हैं। बीजेपी विधायक दल की बैठक कचहरी अड्डा स्थित सचिवालय सभागार में होगी, जबकि विपक्ष के नेताओं की बैठक कोतवाली बाजार स्थित होटल धौलाधार में होगी।

वर्दी, बेरोजगारी भत्ते पर सरकार को घेरेगा विपक्ष

सोमवार से शुरू हो रहा विधानसभा सत्र के हंगामापूर्ण रहने की उम्मीद है। विपक्ष भ्रष्टाचार, स्कूली छात्रों को वर्दी न मिलना, बेरोजगारी भत्ता, नेशनल हाई-वे के प्रभावितों को उचित मुआवजा न मिलना जैसे मुद्दे पर सरकार को घेरेगा। सड़कों की स्थिति, स्वीकृत सड़कों की डीपीआर, प्रदेश में स्कूलों, महाविद्यालयों, स्वास्थ्य संस्थानों का उन्नयन एवं विभिन्न विभागों में रिक्त पद भरने, पर्यटन, उद्यान, पेयजल की आपूर्ति, युवाओं में बढ़ते नशे के प्रयोग की रोकथाम, कर्मचारियों की पेंशन व उन्हें वेतन आयोग देने, सौर ऊर्जा एवं परिवहन व्यवस्था से संबंधित हैं।

344 तारांकित और 93 अतारांकित प्रश्न लगे हैं विधानसभा में

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि 10 दिसंबर से आरंभ हो रहे हिमाचल प्रदेश की 13वीं विधानसभा का चतुर्थ सत्र 15 दिसंबर तक चलेगा। इसमें कुल 6 बैठकें होंगी। इसमें से एक बैठक 13 दिसंबर को गैर सरकारी सदस्य कार्य के लिए निर्धारित की गई है। उन्होंने कहा कि इस सत्र में अभी तक सदस्यों से 344 तारांकित और 93 अतारांकित प्रश्नों की सूचनाएं प्राप्त हुई है। इनमें से 189 तारांकित तथा 43 अतारांकित प्रश्नों की सूचनाएं ऑनलाइन प्राप्त हुई हैं। अधिकतर प्रश्न नियमानुसार सरकार को आगामी कार्रवाई के लिए भेजे जा चुके हैं। इसके अतिरिक्त नियम 62 के अंतर्गत एक सूचना, नियम 101 के तह पांच सूचनाएं, नियम 130 के अंतर्गत सदस्यों से पांच सूचनाएं प्राप्त हुई हैं, जिन्हें वस्तु स्थिति जानने के लिए सरकार को प्रेषित किया गया है।

- Advertisement -

Leave A Reply