Covid-19 Update

2,27,093
मामले (हिमाचल)
2,22,422
मरीज ठीक हुए
3,830
मौत
34,580,832
मामले (भारत)
262,061,063
मामले (दुनिया)

मिस्त्री को फिर चेयरमैन बनाने के NCLAT के फैसले के खिलाफ SC गई टाटा संस

मिस्त्री को फिर चेयरमैन बनाने के NCLAT के फैसले के खिलाफ SC गई टाटा संस

- Advertisement -

नई दिल्ली। टाटा संस (TATA Sons) ने एग्ज़ीक्यूटिव चेयरमैन पद से हटाए गए साइरस मिस्त्री (Cyrus Mistry) की बहाली के नैशनल कंपनी लॉ अपीलीय ट्रिब्यूनल (एनसीएलएटी) (NCLAT) के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। ट्रिब्यूनल ने दिसंबर के फैसले में साइरस को 2016 में पद से हटाना गैर-कानूनी बताया था। दरअसल, 2012 में रतन टाटा की सेवानिवृत्ति के बाद मिस्त्री ने चेयरमैन पद संभाला था। इस संबंध में फैसला सुनाते हुए एनसीएलएटी ने साइरस मिस्री को ग्रुप की तीन कंपनियों में डायरेक्टर बनाने का आदेश भी दिया था। जिसके बाद अब इस फैसले को टाटा संस ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में चुनौती दी है।

यह भी पढ़ें: Congress के स्थापना दिवस पर युवा नेता की गोली मारकर हत्या,मौके पर निकले प्राण

गौरतलब है कि ट्रिब्यूनल का आदेश आने के बाद कंपनी की तरफ से यह साफ कहा गया था कि वह इस फैसले के खिलाफ कानूनी मदद लेगी। वहीं फैसले के बाद साइरस मिस्त्री ने कहा था कि यह मेरे लिए व्यक्तिगत जीत नहीं बल्कि सुशासन और अल्‍पसंख्‍यक शेयरधारकों के अधिकारों के सिद्धांतों की जीत है। बता दें कि NCLAT ने एन चंद्रशेखरन को एग्‍जीक्‍यूटिव चेयरमैन बनाने के निर्णय को भी अवैध करार दिया था। न्यायमूर्ति एसजे मुखोपाध्याय की अगुवाई वाली एनसीएलएटी की दो सदस्यीय पीठ ने अपने फैसले में कहा था कि मिस्त्री के खिलाफ रतन टाटा के उठाए गए कदम परेशान करने वाले थे।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस Link पर Click करें…

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है