Covid-19 Update

2,05,499
मामले (हिमाचल)
2,01,026
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,526,589
मामले (भारत)
196,267,832
मामले (दुनिया)
×

एक कप चाय मिलेगी …

एक कप चाय मिलेगी …

- Advertisement -

 

tea benefits: दुनिया का ऐसा कौन-सा घर होगा जहां लोगों के सुबह का पहला काम चाय से शुरू नहीं होता होगा, लेकिन क्या आपने चाय बनाते हुए या बालकनी में आराम से चाय की चुस्की लेते हुए कभी यह सोचा है कि इसके भी कुछ फायदे हैं या नहीं? हां, चाय के भी सेहत के नजर से बहुत फायदे हैं। चाय में कैफीन होने के बावजूद यह बहुत तरह से लाभदायक होता है।


  • चाय धमनियों में रक्त का थक्का बनने की प्रक्रिया को रोकने और उसके कार्य को सुचारू रूप से करने में बहुत मदद करती है जिससे शरीर में रक्त का प्रवाह अच्छी तरह से हो पाता है। इसमें फ्लेवनाइड नाम का एन्टी-ऑक्सिडेंट होता है जो हृदय को किसी भी प्रकार के समस्या से बचने में सहायता करती है।
  • लंबे समय तक ऑफिस में हो या घर में काम करने के बाद शरीर को कुछ हाइड्रेड करने वाले फूड्स की ज़रूरत होती है। इस वक्त चाय से अच्छा दूसरा विकल्प नहीं हो सकता है जो आपको रिफ्रेश करने के साथ-साथ एनर्जी भी देती है। इसमें कैफीन की मात्रा होने के कारण दिन में ज्यादा से ज्यादा दो कप चाय पीना सेहतमंद साबित हो सकता है।
  • रोज सुबह एक कप चाय पीने से दांतों को मजबूती मिलती है और दांतों के खराब होने की संभावना कम होती है। चाय फ्लोराइड का सबसे अच्छा स्रोत होने के कारण दांतों के एनामेल को नष्ट होने से बचाती है। इसमें एन्टीऑक्सिडेंट का गुण होता है वह जीवाणुओं से लड़ने और मसूड़ों संबंधी समस्या से राहत दिलाने में सहायता करती है।

tea benefits: तेजी से कैलोरी बर्न करती है चाय

कुछ वैज्ञानिक अनुसंधानों से यह साबित हुआ है कि चाय पीने पर कैलोरी बर्न होने की प्रक्रिया तेज होने लगती है। जिससे वज़न घटने की गति तेज हो जाती है। कहते हैं चाय पीकर ताजा होने के साथ-साथ दिमाग के बंद ताले खुल जाते हैं। ग्रीन टी मस्तिष्क के मेमोरी सेल्स के काम को सही तरह से करने में सहायता करती है। इसके अलावा चाय -मनोभ्रंशऔर अल्ज़ाइमर रोग के होने के खतरे के संभावना को कम करती है इसलिए शायद बढ़ती उम्र के साथ लोगों के चाय पीने की आदत बढ़ने लगती है।

वैज्ञानिक अनुसंधानों से यह पता चला है कि जो लोग नियमित रूप से चार या पांच कप चाय पीते हैं उनमें दूसरों के तुलना में ब्रेस्ट, माउथ और प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा कम होता है। वैसे अभी भी इस विषय पर काम चल रहा है। चाय में एन्टी-ऑक्सिडेंट गुण होने के कारण इसमें एन्टी-कैंसर का गुण भी होने की पूरी संभावना है।

हेल्दी चाय की किस्में :

ग्रीन टी – इसके तो बहुत तरह के फायदे होते हैं, जैसे कि यह लीवर के काम को बेहतर बनाती है और हड्डियों को मजबूत करके आर्थराइटिस के खतरे को कम करने में सहायता करती है। हाँ, टी बैग के जगह पर ग्रीन टी के पत्तियों का इस्तेमाल करना ज्यादा बेहतर होता है।
ब्लैक टी – ब्लैक टी में एन्टी ऑक्सिडेंट का गुण सबसे ज्यादा होने के कारण मुंह और मसूड़ों को जीवाणुओं से रक्षा करने में बहुत सहायता करता है। इसके अलावा यह रक्त का थक्का बनने की प्रक्रिया को रोक कर धमनियों को अच्छी तरह से काम करने में सहायता करती है।
ऊलौंग टी- यह चाइनीज़ टी होती है जो कैलोरी को बर्न करने के साथ-साथ इम्युनिटी को बढ़ाने में बहुत सहायता करती है।

सौ बीमारियों की एक दवा नीम

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है