×

हार के बाद वापसी कर सकती है Team India

हार के बाद वापसी कर सकती है Team India

- Advertisement -

नई दिल्ली । क्रिकेट प्रशंसकों को जिस टेस्ट सीरीज का इंतजार था वो पुणे में शुरू हुआ और पहले ही टेस्ट मैच में भारत की हार ने इस श्रृंखला को और रोमांचक बना दिया। पुणे टेस्ट मैच में मिली 333 रनों की हार टीम इंडिया की अपने ही घर में दूसरी सबसे बड़ी पराजय है। इससे पहले आॅस्ट्रेलिया ने ही भारत को उसी की सरजमीं पर 342 रनों से मात दी थी। इस जीत के बाद एक ओर जहां आॅस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ ने उन सभी क्रिकेट पंडितों और क्रिकेट विश्लेषकों को करारा जवाब दिया, जिन्होंने सीरीज में कंगारुओं के 4-0 से हार की भविष्यवाणी की थी। गौरतलब है कि सीरीज से पहले हरभजन सिंह पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने भी भारत के पक्ष में क्लीन स्वीप की भविष्यवाणी की थी। सीरीज के पहले ही टेस्ट मैच में हार झेलने के बाद अब दबाव कंगारुओं पर नहीं बल्कि भारतीय टीम पर है। आॅस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ ने भी अपने खिलाड़ियों को आगाह किया है कि वे एक टेस्ट मैच में जीत के बाद आत्ममुग्ध ना हों, क्योंकि भारत इस सीरीज में वापसी की जी तोड़ कोशिश करेगा और कर भी सकता है। स्टीव स्मिथ ने भारत की सीरीज में वापसी करने की बात ऐसे ही हवा में नहीं कही है। दरअसल, भारतीय टीम ने इससे पहले कई मौकों पर पहला मैच गंवाने के बाद सीरीज में पलटवार करते हुए जीत दर्ज की है। हम आपको कुछ ऐसी ही टेस्ट सीरीज के बारे में बता रहे हैं, जिनमें भारत ने पिछड़ने के बाद ना सिर्फ वापसी की बल्कि श्रृंखला भी जीती है। भारतीय टीम का इतिहास बताता है कि उसे वापसी करना आता है। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पुणे टेस्ट मैच में हार के बाद मीडिया को दिए गए अपने बयान में यह भरोसा दिलाते हुए कहा भी था कि आगामी टेस्ट मैचों में पहली गेंद से ही फर्क दिखाई देगा।


 वर्ष के सर्वश्रेष्ठ कप्तान चुने गए kohli

नई दिल्ली। विराट कोहली भले ही पुणे टेस्ट में कोई करिश्मा ना कर पाए हों, लेकिन इसमें किसी को शक नहीं कि पिछले दो सालों में जिस तरह से क्रिकेट के तीनों फार्मेंट में, कोहली ने विराट पारियां खेली हैं, उसकी तुलना किसी से नहीं की जा सकती है। गौरतलब है कि कोहली की कप्तानी में भारत पिछलेे साल 12 टेस्ट में से 9 में जीता है।  अवार्ड फंक्शन में इंग्लैंड के बेन स्टोक्स को बेस्ट बैटसमैन चुना गया, उन्हें ये अवार्ड दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 198 गेंद में 258 रन की शानदार पारी के लिए मिला। वहीं स्टुअर्ट ब्राड को सर्वश्रेष्ठ टेस्ट गेंदबाज चुना गया, उन्हें ये पुरस्कार तीसरे टेस्ट में 17 रन देकर 6 विकेट चटकाने के लिए मिला।  रहस्यमयी स्पिनर सुनील नारायण को वनडे में वर्ष का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज चुना गया, उन्होंने गुयाना में त्रिकोणीय श्रृंखला में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 27 रन देकर छह विकेट लिए थे।  बांग्लादेश के बायें हाथ के तेज गेंदबाज मुस्तफिजुर रहमान को टी-20 में वर्ष का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया गया तो वहीं बांग्लादेश स्टार मेहदी हसन मिराज को इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैचों में 19 विकेट झटकने के लिये वर्ष का पदार्पण करने वाला सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया। विलियम्स वेस्टइंडीज की हेयले विलियम्स को विश्व टी-20 का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी प्रदर्शन करने का पुरस्कार दिया गया। न्यूजीलैंड के प्रतिभाशाली ऑफ स्पिनर लेघ कास्पेरेक वर्ष की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज चुनी गईं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है