इस एक फीचर के हटने से भारत में हमेशा के लिए बंद हो सकता है WhatsApp

मैसेजेस को पढ़ना चाहती है सरकार

इस एक फीचर के हटने से भारत में हमेशा के लिए बंद हो सकता है WhatsApp

- Advertisement -

नई दिल्ली। WhatsApp पर आप जो भी मैसेज भेजते हैं, वह एंड टू एंड एनक्रिप्शन के रूप में होता है। यानी मैसेज भेजने वाले और प्राप्त करने वाले को ही ये दिखाई देते हैं। बीच में कोई भी उन्हें नहीं पढ़ सकता। अब भारत सरकार यह पता लगाना चाहती है कि आखिर मैसेज में क्या लिखा है। अगर WhatsApp से एनक्रिप्शन वाला फीचर हट जाए तो यह ऐप भारत में हमेशा के लिए बंद हो सकता है।


यह भी पढ़ें: WhatsApp Pay का रास्ता हुआ साफ, अब आया नया लॉक फीचर

भारत में WhatsApp के 20 करोड़ मासिक यूजर्स हैं और यह कंपनी के लिए दुनिया का सबसे बड़ा बाजार है। WhatsApp के कम्यूनिकेशन प्रमुख कार्ल वूग ने कहा कि “प्रस्तावित नियमों में से जो सबसे ज्यादा चिंता का विषय है, वह मैसेजेज का पता लगाने पर जोर देना है।

” वूग का कहना है कि इस फीचर के बिना WhatsApp बिल्कुल नया उत्पाद बन जाएगा। उन्होंने कहा, “प्रस्तावित बदलाव जो लागू होने जा रहे हैं, वह मजबूत गोपनीयता सुरक्षा के अनुरूप नहीं हैं, जिसे दुनिया भर के लोग चाहते हैं।” उन्होंने कहा, “हम एंड-टू-एंड एनक्रिप्शन मुहैया कराते हैं, लेकिन नए नियमों के तहत हमें हमारे उत्पाद को दोबारा से गढ़ने की जरूरत पड़ेगी।” उन्होंने आगे कहा कि ऐसी स्थिति में मैसेजिंग सेवा अपने मौजूदा स्वरूप में मौजूद नहीं रहेगी।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

मौसम: भारी बारिश लगी रंग दिखाने, कहीं पेड़ गिरे तो कहीं मकान- दुकानों में भी घुसा पानी

बिग ब्रेकिंगः हिमाचल में अफसरशाही की फेंट के साथ ट्रांसफर पर लगी रोक

भागसूनागः लैंडस्लाइड में गंभीर घायल 8 माह की बच्ची की टांडा में मौत

यहां भरे जाएंगे कॉलेज प्रवक्ता और शास्त्री अध्यापकों के 10 पद, जाने क्या है योग्यता

जमीनी विवाद को लेकर भिड़े दो गुट, एक का फूटा सिर-आधा दर्जन घायल

हादसेः सोलन में जीप तो हमीरपुर में गिरा ट्रक, एक की मौत-दो घायल

दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित का निधन, राहुल बोले- खबर से टूट गया हूं

सत्ती बोलेः घर पर बैठी हुई थीं इंदु, हमने बनाया महिला मोर्चा की प्रदेशाध्यक्ष

विवादों के बीच शिमला में जयराम से मिले ध्वाला, क्या हुई बात-जानिए

शिक्षा बोर्ड ने एसओएस परीक्षाओं के लिए पंजीकरण तिथियों का किया ऐलान

कार से उतरते ही टाटा सूमो से टकराई 4 साल की मासूम, मौत

हिमाचल-हरियाणा समेत चार राज्यों में डोली धरती, जानें कितनी थी तीव्रता

छात्रा को मैसेज कर करता था परेशान, परिजनों ने कॉलेज पहुंचकर की धुनाई

यूपी में राम नाईक की जगह "इस बड़े नाम वाली महिला" को बनाया गया राज्यपाल

कांग्रेस कार्यालय से चंद कदम पर "प्रियंका मसले" पर प्रदर्शन,मोदी-योगी सरकार के खिलाफ नारेबाजी

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है