Covid-19 Update

2,05,499
मामले (हिमाचल)
2,01,026
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,571,295
मामले (भारत)
197,365,402
मामले (दुनिया)
×

एशियन गेम्स: भारत के खाते में एक और गोल्ड, तजिंदर पाल ने जीता

एशियन गेम्स: भारत के खाते में एक और गोल्ड, तजिंदर पाल ने जीता

- Advertisement -

जकार्ता। 18वें एशियन गेम्स में तजिंदर पाल सिंह ने शॉट पुट स्पर्धा में भारत को गोल्ड मेडल दिलाया। शनिवार को जर्काता में उन्होंने अपने पांचवें प्रयास में 20.75 मीटर गोला फेंक भारत के लिए इन एशियाई खेलों का सातवां गोल्ड मेडल जीता। इसके साथ ही तजिंदर ने छह साल पुराना ओम प्रकाश करहाना का राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी तोड़ दिया। करहाना के नाम  20.69 मीटर का रिकार्ड दर्ज था।
23 साल के तजिंदर ने पहले प्रयास में 19.96, दूसरे प्रयास में 19.15 मीटर का थ्रो किया। हालांकि तीसरा प्रयास उनका फाउल रहा। लेकिन उन्होंने चौथे प्रयास में 19.96 और पांचवें प्रयास में 20.75 का रिकॉर्ड थ्रो किया, जबकि छठे प्रयास में 20.00 मीटर का थ्रो किया। इस स्पर्धा में चीन के लियू यांग ने 19.52 मीटर के साथ रजत, जबकि कजाखस्तान के इवान इवानोव ने 19.40 मीटर के साथ कांस्य पदक जीता।
तजिंदर पाल सिंह का इससे पहले व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 20.24 मीटर का था, जो कि उन्होंने पिछले साल ही हासिल किया था। पंजाब के मोगा के रहने वाले 23 साल के तजिंदर ने 2006 में शॉट पुट में अपना करियर शुरू किया। उसके बाद तजिंदर एक के बाद एक सफलता की सीढ़ी चढ़ते गए। एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीतना उनके करियर की सबसे बड़ी उपलब्धि है।

तजिंदर पाल के कोच मोहिंदर सिंह ने बताया कि स्पोर्ट्स कोटा के तहत तजिंदर ने भारतीय नौसेना ज्वाइन की। जिससे उन्हें इस खेल को निखारने में काफी मदद मिली। तजिंदर ने 2017 में भुवनेश्वर में हुई एशियन चैंपियनशिप में शॉट पुट स्पर्धा में 19.77 मीटर गोला फेंककर दूसरा स्थान हासिल किया था। इसी साल ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में उन्होंने 19.42 मीटर गोला फेंककर आठवां स्थान हासिल किया था।

भारतीय महिला हॉकी ने 4-1 से दक्षिण कोरिया को हराया

जकार्ता। भारतीय महिला हॉकी टीम ने 18वें एशियाई खेलों के अपने तीसरे ग्रुप मैच में दक्षिण कोरिया को 4-1 से हरा दिया। भारतीय टीम की यह लगातार तीसरी जीत है। शनिवार को भारत के लिए ग्रुप-बी के इस मैच में नवनीत कौर ने 16वें, गुरजीत कौर ने 54वें और 55वें, जबकि वंदना कटारिया ने 56वें मिनट में गोल किए। वहीं, यूरिम ने 20वें मिनट में दक्षिण कोरिया के लिए पेनाल्टी स्ट्रोक से एकमात्र गोल किया। तीसरे क्वार्टर में कोई भी टीम गोल नहीं कर पाई, लेकिन चौथे और आखिरी क्वार्टर में भारत ने दो पेनाल्टी कॉर्नर को गोल में तब्दील कर मैच अपने पक्ष में कर लिया। भारतीय टीम ने इसके कुछ ही मिनट के बाद एक और गोल कर मैच 4-1 से अपने नाम कर लिया।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है