Covid-19 Update

2,04,887
मामले (हिमाचल)
2,00,481
मरीज ठीक हुए
3,495
मौत
31,329,005
मामले (भारत)
193,701,849
मामले (दुनिया)
×

तेलंगाना पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया- कैसे हुआ एनकाउंटर? जानें

तेलंगाना पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया- कैसे हुआ एनकाउंटर? जानें

- Advertisement -

नई दिल्ली। हैदराबाद की 27 वर्षीय वेटरनरी डॉक्टर के गैंगरेप व हत्या के मामले में सभी 4 आरोपियों की पुलिस मुठभेड़ में मौत हो गई है। बतौर रिपोर्ट्स, चारों आरोपियों को वारदात की जगह पर रीक्रिएशन के लिए ले जाया गया था जहां उन्होंने भागने की कोशिश की। जहां इस एनकाउंटर को लेकर देश में खुशी का माहौल है, वहीं कुछ लोग इस बात का विरोध करते हुए तेलंगाना पुलिस पर सवाल भी उठा रहे हैं। इस सब के बीच तेलंगाना पुलिस ने खुद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया है कि किन परिस्थितियों में यह एनकाउंटर किया गया।

यहां जानें किस तरह और किन परिस्थितियों में पुलिस को करना पड़ा एनकाउंटर
तेलंगाना पुलिस की ओर से साइबराबाद के सीपी वीसी सज्जनार ने कहा कि 27-28 नवंबर की रात युवती के साथ दुष्कर्म हुआ और बाद में जिंदा जला दिया गया। पहले आरोपियों ने युवती के साथ गैंगरेप किया उसके बाद पेट्रोल डालकर जलाया। हमने इस मामले में चारों आरोपियों के खिलाफ ठोस सबूत इकट्ठे किए और बाद में उन्हें गिरफ्तार किया। हमें दस दिन के लिए पुलिस कस्टडी मिली थी। इसके बाद 4 और 5 दिसंबर को हमने आरोपियों को पुलिस कस्टडी में लेने के बाद पूछताछ की। हमने आरोपियों का डीएनए टेस्ट भी किया है, ये सभी लोग कर्नाटक-तेलंगाना में कई मामलों में आरोपी थे।


उन्होंने आगे बताया कि रिमांड के चौथे हम उन्हें बाहर लेकर आए, उन्होंने हमें सबूत दिए। आज हम उन्हें आगे के सबूत इकट्ठा करने के लिए घटना स्थल लेकर आए थे, लेकिन उन्होंने पुलिसकर्मियों पर हमला बोल दिया। हमारे दो हथियार छीने गए थे, जिसके बाद पुलिस को आरोपियों पर फायरिंग करनी पड़ी। चारों आरोपियों की मौत गोली लगने के कारण से ही हुई है। आरोपियों के साथ हमारी मुठभेड़ हुई। जिसमें एक SI और कॉन्स्टेबल घायल भी हुए हैं। उन्हें इलाज के अस्पताल रेफर कर दिया है।

पुलिस द्वारा बताया गया कि जब हम क्राइम सीन रिक्रिएट करने के लिए घटना स्थल पर पहुंचे थे। तब ये एनकाउंटर सुबह 5.30 से 6.15 बजे के बीच हुआ है। चार में से एक आरोपी ने पुलिस से पिस्तौल छिनी और फायरिंग शुरू कर दी, जबकि बाकी तीन रोड-पत्थर लेकर खड़े हो गए। इसमें दो लोग घायल हुए थे। जिसके बाद 15 पुलिसकर्मी थे, उन्होंने आरोपियों पर फायरिंग शुरू कर दी थी। चारों आरोपियों की मौत गोली लगने के कारण से ही हुई है। आरोपियों के साथ हमारी मुठभेड़ हुई। जिसमें एक SI और कॉन्स्टेबल घायल भी हुए हैं। उन्हें इलाज के अस्पताल रेफर कर दिया है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है