Expand

Heart of Asia Conference में गूंजेगा आतंकवाद का मुद्दा

Heart of Asia Conference में गूंजेगा आतंकवाद का मुद्दा

- Advertisement -

अमृतसर। पंजाब के अमृतसर में हार्ट ऑफ एशिया कॉन्फ्रेंस शुरू हो चुकी है। इस कॉन्फ्रेंस में भारत, चीन, रूस, ईरान और पाकिस्तान समेत 14 सदस्य देशों के प्रतिनिधि शामिल हो रहे हैं। सम्मेलन के पहले दिन भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी संबोधित करेंगे। कॉन्फ्रेंस में मुख्य तौर पर आतंकवाद, कट्टरतावाद और चरमपंथवाद के खतरे पर विचार किया जाएगा। कॉन्फ्रेंस में 17 सहयोगी देशों के प्रतिनिधि भी शिरकत कर रहे हैं। कुल मिलाकर करीब 40 देशों और यूरोपीय यूनियन जैसे बड़े ग्रुप की भागीदारी से ही जाहिर है कि ये कॉन्फ्रेंस काफी अहम है। कॉन्फ्रेंस में तालिबान के विद्रोह का सामना कर रहे अफगानिस्तान के राष्ट्रपति hoa-taj-hotelअशरफ घनी भी हिस्सा ले रहे हैं।

  • अमृतसर में ताज होटल में कड़ी सुरक्षा के बीच कॉन्फ्रेंस शुरू
  • 14 सदस्य देशों के प्रतिनिधि हो रहे शामिल

कॉन्फ्रेंस में इस बात पर भी चर्चा होगी कि कैसे अफगानिस्तान में शांति बहाली प्रक्रिया को नए सिरे से शुरू किया जाए। हार्ट ऑफ एशिया कॉन्फ्रेंस में आतंकवाद का मुद्दा काफी अहम है। सीमा पार आतंकवाद के मुद्दे पर भारत पाकिस्तान को घेरने की पुरजोर कोशिश कर सकता है। भारत को इस कवायद में अफगानिस्तान का साथ भी मिल सकता है। कॉन्फ्रेंस से पहले भारत के विदेश सचिव एस जयशंकर और अफगानिस्तान के उप विदेश मंत्री हिकमत खलील करजई के बातचीत हुई। दोनों देशों ने पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद को क्षेत्रीय शांति और स्थिरता के लिए सबसे बड़ा खतरा बताया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है