Expand

उरी आतंकी हमले में जोगिंद्रनगर का जवान जख्मी

उरी आतंकी हमले में जोगिंद्रनगर का जवान जख्मी

- Advertisement -

ओम प्रकाश चौहान/जोगिंद्रनगर। रविवार को जेएंडके के उरी सेक्टर में सेना पर हुए आतंकी हमले में जोगिंद्रनगर की लडभड़ोल तहसील का एक हवलदार जख्मी हो गया है। देर रात मिली सूचना के मुताबिक उरी हमले में घायल हुआ हवलदार जसवंत सिंह पुत्र जय सिंह, लडभड़ोल तहसील के बोहल गांव का निवासी है, जोकि 10 डोगरा रेजीमेंट में तैनात है। जसवंत करीब 20 साल से सेना में काम कर रहा है। बता दें कि जम्मू-कश्मीर के उरी में सेना की 12 यूनिट के बेस पर हुए आत्मघाती हमले में सेना के 17 जवान शहीद हो गए हैं। सेना ने चारों आतंकियों को भी मार गिराया है। बारामूला के उरी में ये आत्मघाती हमला आज सुबह करीब सवा 5 बजे हुआ। हमले के बाद देश के सभी एयरपोर्ट हाईअलर्ट कर दिए गए हैं। शुरुआत में ऐसा लगा था कि हमला ब्रिगेड मुख्यालय पर हुआ है, लेकिन सेना के सूत्रों ने बताया कि यह हमला नियंत्रण रेखा पर तैनात सेना की बटालियन के मुख्यालय पर किया गया है। बताया जा रहा है कि बारामुला में सेना के 19वें डिवीजनल मुख्यालय के हेलिकॉप्टरों को सेवा में लगाया गया। हमले में गोली लगने या जलने से घायल हुए 10 जवानों को वहां से निकाल लिया गया। घायल जवानों को श्रीनगर के सैन्य अस्पताल में भर्ती किया गया। सूत्रों ने बताया कि हमले के समय डोगरा रेजीमेंट के जवान एक तंबू में सोए हुए थे, जिसमें विस्फोट के चलते आग लग गई। आग पास स्थित बैरकों तक भी फैल गई। माना जा रहा है कि हमले को घुसपैठ करके आए आतंकियों के समूह ने अंजाम दिया।
uri-attack-soldiers-apजैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने किया हमला
हमला जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने किया है। डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने बताया कि हमला जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने किया। आतंकियों के पास आग लगाने वाले हथियार थे। सेना के एक शिविर में आग फैल गई। आतंकियों के पास से बरामद चीजों पर पाकिस्तान की मार्किंग है। उन्होंने पाक डीजीएमओ में बात की है और अपनी नाराजगी व्यक्त कराई है। डीजीएमओ ने बताया कि आतंकियों के पास से 4 एके 47 और ग्रेनेड बरामद हुए। इलाके में अभी भी सर्च ऑपरेशन जारी है। 14 जवानों की मौत टेंट में आग लगने से हुई है। वहीं, पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर हमले की निंदा की। उन्होंने कहा कि मैं देश को आश्वासन देना चाहता हूं कि हमले के पीछे दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। हमले में शहीद हुए जवानों को हम सैल्यूट करते हैं। राष्ट्र के लिए की गई उनकी सेवा हमेशा याद की जाएगी। जम्मू कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती ने भी हमले की निंदा की है और कहा कि ताजा हमला फिर से हिंसा को हवा देने को है।
vbsभारत के स्वाभिमान पर हमलाः वीरभद्र
सीएम वीरभद्र सिंह ने जम्मू-कश्मीर के उरी सैक्टर में आज सुबह सेना के बेस कैम्प में हुए एक आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा की है। इस हमले में सेना के 17 जवान शहीद हुए तथा कई घायल हो गए। वीरभद्र सिंह ने कहा कि यह हमला भारत के स्वाभिमान पर हमला है और भारत इस प्रकार के कायरतापूर्ण कृत्यों के आगे झुकने वाला नहीं है। उन्होंने कहा कि इस हमले का हर हाल में मुंह तोड़ जवाब दिया जाना चाहिए। सीएम ने शहीद सैनिकों की आत्मा की शांति तथा इस आतंकी हमले में घायल सैनिकों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की भी कामना की है।

जसवंत की दीर्घायु की कामना को उठे हाथ

जोगिंद्रनगर। उरी सेक्टर में आतंकी हमले में जख्मी हवलदार जसवंत सिंह के स्वास्थ्य लाभ के लिए परिजनों के साथ क्षेत्र के लोगों ने भी कामना की है। अब तक के सबसे बड़े हमले में जख्मी जसवंत सिंह के बाजू में चोट लगने की सूचना मिली है, साथ ही बहादुर जवान को खतरे से बाहर बताया जा रहा है।

jogi जोगिंद्रनगर उपमंडल के तहत लडभड़ोल तहसील के घमीरू डाकघर के बोहल गांव के जय सिंह के पुत्र हवलदार जसवंत सिंह (40) करीब 20 साल  पहले 10 डोगरा में भर्ती हुए। देश सेवा का जज्बा लिए तिरंगे की शान को बरकरार रखने के लिए जसवंत कभी भी पीछे नहीं हटा। जसवंत के पिता जय सिंह (78) शिक्षा विभाग से रिटायर हुए हैं तथा माता सुता देवी (70 साल) एक गृहिणी हैं। माता-पिता दोनों ही बेटे की सलामती की दुआएं मांग रहे हैं, लेकिन अपने वीर बेटे पर उन्हें गर्व भी है। जसवंत की पत्नी सावनी देवी अपने सुहाग की सलामती की भी दुआएं मांग रही हैं। जसवंत की दो छोटी बेटियां अंशु व तनु पापा के ठीक होकर घर आने का इंतजार कर रही हैं। जसवंत के भाई महेंद्र सिंह मध्यप्रदेश में किसी उ़द्योग में काम करते हैं। समूचा इलाका जसवंत की बहादुरी की दाद दे रहा है और उनकी दीर्घायु की भी कामना कर रहा है। जोगिंद्रनगर के विधायक गुलाब सिंह ठाकुर व भाजपा नेता कश्मीर सिंह राजपूत ने वीर सैनिक की दीर्घायु की कामना की है।

jaswant-singh-2जसवंत के घर लगा लोगों का तांता

जोगिंद्रनगर। उरी सेक्टर में हुए आतंकी हमले में जख्मी हुए बोहल गांव के हवलदार जसवंत सिंह की लंबी उम्र की कामना करने वालों का तांता लग गया है। जसवंत के माता-पिता व बीवी-बच्चों को ढांढस बंधाने के लिए सगे संबंधी व गांव के लोगों का उनके घर में सुबह से ही आना-जाना लगा हुआ है। एक ओर जहां जसवंत की बहादुरी के चर्चे हो रहे हैं, वहीं उनकी सलामती की दुआएं भी मांगी जा रही हैं। पिता जय सिंह, माता सुता देवी, पत्नी सावनी देवी व बच्चे लगातार टेलीविजन में आ रही अपडेट्स को देख रहे हैं तथा अंदरखाते किसी अनहोनी से भी परिवार डरा हुआ है। वहीं, लोग पाकिस्तान पर जमकर गुस्सा निकाल रहे हैं।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है