Covid-19 Update

2,06,589
मामले (हिमाचल)
2,01,628
मरीज ठीक हुए
3,507
मौत
31,767,481
मामले (भारत)
199,936,878
मामले (दुनिया)
×

सड़कों पर गोलगप्पे बेचने वाला किक्रेट में करेगा नाम रोशन

सड़कों पर गोलगप्पे बेचने वाला किक्रेट में करेगा नाम रोशन

- Advertisement -

मुंबई।यहां फुटपाथ पर रहकर गोलगप्पे बेचकर अपना गुजारा करने वाले यशस्वी जायसवाल को इंडियन क्रिकेट मुंबई अंड़र-19 में चुना गया है। मूल रुप से यूपी के रहने वाले यशस्वी जायसवाल क्रिकेटर बनने का सपना लिए मुंबई आए थे।

यशस्वी जायसवाल ने जब अपना घर छोड़ा था जो उसकी उम्र महज 11 साल थी। मां-बाप गरीब थे, इसलिए उन्होंने यशस्वी को घर छोड़ने से मना भी नहीं किया। यशस्वी तीन साल तक मुंबई में आजाद मैदान ग्राउंड पर ग्राउंड्समैन के साथ मुस्लिम यूनाइटेड के टेंट में रहे। उन्हें ऐसा इसलिए करना पड़ा क्योंकि आमतौर वह जिस डेयरी की दुकान पर सोते थे, वहां से उन्हें बाहर कर दिया गया था।


भूखे पेट सोना पड़ा

यशस्वी बताते है कि अपना पेट पालने के लिए उन्होंने आजाद मैदान में राम लीला के दौरान (गोलगप्पे) बेचा कर अपना खर्चा निकाला था। मगर कुछ दिन ऐसे भी थे कि जब उन्हें खाली पेट सोना पड़ता था क्योंकि जिन ग्राउंड्समैन के साथ वह रहते थे, वह आपस में लड़ाई करते थे। वह लोग खाना नहीं पकाते थे। और सबके साथ उन्हें भूखा सोना पड़ता था।

अब श्रीलंका जाएंगे यशस्वी

अब यशस्वी 17 साल के हो चुके हैं। मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज़ यशस्वी श्रीलंका दौरे के लिए मुंबई की अंडर-19 टीम में चुने गए हैं। मुंबई के अंडर-19 कोच सतीश समंत ने यशस्वी के बारे में बताते हुए कहा, “उसका फोकस और खेल की समझ कमाल की है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है