Expand

गुलाम को बीजेपी ने दी नसीहत, माफी मांगने को कहा

गुलाम को बीजेपी ने दी नसीहत, माफी मांगने को कहा

- Advertisement -

शिमला। जेएंडके के उडी सेक्टर में शहीद हुए सैनिकों की शहादत की तुलना सामान्य परिस्थितियों में हुई आम नागरिकों की मत्यु से किए जाने पर बीजेपी ने कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद को खरी-खरी सुनाई है। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सत्ती ने कहा है कि देश की आजादी और अखंडता को अक्षुण रखने के लिए अपने प्राण न्योछावर करने वाले वीर सैनिकों का इससे अधिक अपमान और क्या हो सकता है।

  •  सत्ती बोले,नोटबंदी पर प्रदेश कांग्रेस नेताओं के बदले सुर
  • कहा, ना जाने किस दबाव में आकर नेताओं ने बदले हैं सुर

gulamnavi-azadकांग्रेस को देश के सैनिकों के लिए थोड़ा सा भी सम्मान है तो कांग्रेस पार्टी को तुरंत इस बयान के लिए देश से माफी मांगनी चाहिए। बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि पिछले 11 दिन में देश ने देख लिया है की काले धन व भ्रष्टाचारियों के संरक्षण के लिए कांग्रेस नेता एकजुट हो रहे हैं। जनता की मुश्किलों के बहाने वे उन लोगों की पैरवी करने में लगे हुए हैं जो वर्षों से देश को दोनों हाथों से लूटकर अपनी तिजोरियां भर रहे थे। कांग्रेस के संरक्षण के चलते भ्रष्टाचारियों व कालाबजाारियों ने अमीरों और गरीबों के बीच एक बड़ी खाई बना दी थी।  मोदी सरकार के एक फैसले ने न केवल इस खाई को पाट दिया है और देश के विकास के नए द्वार भी खोल दिए हैं। अगले 40 दिन के बाद भ्रष्टाचारियों के संरक्षणों वालों के मुंह खुद व खुद बंद हो जाएंगे। सत्ती ने कांग्रेस नेताओं पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस हाईकमान के चलते इस पार्टी के प्रदेश के नेता भी अब अपना सुर बदलने लग पड़े हैं। कल तक नोटबंदी के फैसले की सराहना करने वाले नेतागण न जाने आज किस दबाव में जनता की कठिनाइयों की बात कहकर मोदी सरकार के फैसले की आलोचना करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि शायद यह लोग इस  बात को भूल रहे हैं कि हिमाचल ईमानदार लोगों का प्रदेश है। बेइमानों के पक्ष में खड़े होने वालों को स्वयं धूमिल होने के अतिरिक्त कुछ और हासिल नहीं होगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है