Covid-19 Update

2,05,061
मामले (हिमाचल)
2,00,704
मरीज ठीक हुए
3,498
मौत
31,396,300
मामले (भारत)
194,663,924
मामले (दुनिया)
×

स्टडी: आने वाले समय में जिन्दा यूजर्स से ज्यादा होंगे डेड यूजर्स

स्टडी: आने वाले समय में जिन्दा यूजर्स से ज्यादा होंगे डेड यूजर्स

- Advertisement -

नई दिल्ली। लोकप्रिय सोशल मीडिया (Social Media) प्लेटफार्म फेसबुक (Facebook) में आने वाले समय में ज़िंदा यूजर्स (Users) के प्रोफाइल से ज्यादा डेड यूजर्स की प्रोफाइल की संख्या होगी। एक स्टडी (Study) में यह बात सामने आई है कि आने वाले 50 सालों में डेड यूजर्स के प्रोफाइल लीविंग अकाउंट से ज्यादा हो जाएंगे।

यह भी पढ़ें- 46 फर्जी चाइनीज ऐप को Google ने प्ले-स्टोर से हटाया, 60 करोड़ बार हुए थे डाउनलोड


यह स्टडी Oxford इंटरनेट इंस्टिट्यूट में की गई। रिपोर्ट (Report) में कहा गया है कि 22वीं शताब्दी के पहले दशक में फेसबुक पर डेड अकाउंट्स की संख्या लीविंग से ज्यादा हो सकती है। रिसरचर्स का कहना है कि उन्होंने यह स्टडी सोशल मीडिया के क्रिटीक के तौर पर नहीं की थी, लेकिन ये डिजिटल आईडेंटिटी के बारे में है। इस स्टडी में कहा गया है कि साल 2100 में फेसबुक पर डेड यूजर्स की संख्या 4.9 बिलियन हो जाएगी।

यह भी पढ़ें- Maruti Suzuki ने लॉन्च की नई Ertiga, जानें क्या किया बदलाव

इस स्टडी पर फेसबुक ने कहा है कि कंपनी (Company) डिजिटल लेगेसी बनाने को लेकर गंभीर है। फेसबुक ने यूजर के डेथ को हैंडल करने के लिए कई मेजर्स लिए हैं। एक बार कंपनी को यूजर्स के डेथ की जानकारी मिलती है तो उनके अकाउंट को स्पेशल मेमोरियल स्टाइल पेज में तब्दील कर दिया जाता है। फेसबुक के पास लाखों ऐसे मेमोरियलाइज्ड अकाउंट्स हैं।’ बता दें, यूजर्स फेसबुक की सेटिंग्स में legacy contact सेलेक्ट कर सकते हैं। ऐसा करने से यूजर की डेथ होने के बाद उस अकाउंट का ऐक्सेस उसे मिलता है जिसे यूजर ने legacy contact में ऐड किया है। इसके बाद वो अकाउंट memorialized हो जाता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Like करें हिमाचल अभी अभी का Facebook Page…. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है