Covid-19 Update

1,61,072
मामले (हिमाचल)
1,24,434
मरीज ठीक हुए
2348
मौत
25,227,970
मामले (भारत)
164,275,753
मामले (दुनिया)
×

Dharamshala में भ्रष्टाचार, अपराध और षड्यंत्रों का हुआ विकास

Dharamshala में भ्रष्टाचार, अपराध और षड्यंत्रों का हुआ विकास

- Advertisement -

धर्मशाला। सत्तारूढ़ कांग्रेस और विपक्षी बीजेपी में चल रही जुबानी जंग लगातार जारी है। एक तरफ बीजेपी धर्मशाला में कोई विकास नहीं होने की बात कह रही है तो वहीं कांग्रेसियों का कहना है कि इन चार वर्षों में धर्मशाला में अथाह विकास हुआ है। इसी जुबानी जंग में उतरते हुए बीजेपी मंडल कोर कमेटी सदस्य अतुल भारद्वाज ने बीजेपी की तरफ से कांग्रेस पर गंभीर आरोप लगाए हैं। अतुल भरद्वाज का कहना है कि धर्मशाला में  विकास तो हुआ है, लेकिन यह सिर्फ भ्रष्टाचार, अपराध और षड्यंत्रों में ही हुआ है। जनहित के लिए कांग्रेस सरकार और स्थानीय कांग्रेस के विधायक एक भी योजना नहीं ला सके हैं।


  • जब चाहें विकास पर खुली बहस कर सकते हैं कांग्रेसी
  • कांग्रेस नेता सच्चाई जनता को बताने का नहीं जुटा पा रहे साहस
  • केंद्र की योजनाओं को भी अपनी योजनाएं बता रहे प्रदेश के कांग्रेसी

जिन योजनाओं का ढिंढोरा कांग्रेसी पीट रहे हैं वह या तो केंद्र सरकार की योजनाएं हैं या फिर पूर्व की प्रदेश की बीजेपी सरकार की योजनाएं हैं। जिनमें पूर्व मंत्री किशन कपूर का भरपूर योगदान रहा है। अब कांग्रेसी उन्हीं योजनाओं को अपने मंत्री की लाई हुई योजनाएं जनता के सामने बता रहे हैं। अतुल भारद्वाज का कहना है कि बयानबाजी करने की बजाए कांग्रेसी नेता सार्वजनिक तौर पर उनसे बहस कर सकते हैं। इस बहस के लिए समय और स्थान कांग्रेसी चुन लें और जनता के सामने बहस करें ताकि सारी सच्चाई जनता के सामने एकदम ही आ जाए। भारद्वाज ने कहा कि स्मार्ट सिटी केंद्र की योजना है और धर्मशाला का इसमें चयन होना एक सुखद बात है। अब कांग्रेसी इसे अपने मंत्री की उपलब्धि बता रहे हैं। लेकिन क्या धर्मशाला में स्मार्ट सिटी के लिए जरूरी बुनियादी ढांचा सिर्फ सुधीर शर्मा के विधायक और मंत्री बनने के बाद ही विकसित हुआ। क्या सुधीर के आने से पहले धर्मशाला की कोई पहचान नहीं थी। यह सीधे तौर पर जनता को गुमराह करने की राजनीति है और कुछ नहीं है।


अतुल भारद्वाज ने आरोप लगाया कि जिस नगर निगम बनाने का श्रेय कांगेसी ले रहे हैं वह विकास नहीं बल्कि भ्रष्टाचार का अड्डा बन चूका है। विकास के दावे करने वाले कांग्रेसी यह सच्चाई भी जनता को बताएं कि उनके पार्षद निगम की बैठकों में क्यों काम नहीं होने का रोना रोते हैं। जब से नगर निगम बना है तब से पूरे शहर में सफाई व्यवस्था का दिवाला निकल चुका है। जगह-जगह कूड़े के ढेर जनता का मुंह चिढ़ा रहे हैं और निगम की कार्यप्रणाली की पोल खोल रहे हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है