Covid-19 Update

1,98,583
मामले (हिमाचल)
1,91,025
मरीज ठीक हुए
3,379
मौत
29,510,410
मामले (भारत)
176,764,688
मामले (दुनिया)
×

इस देश में बढ़ रहा ‘Twilight love’ का ट्रेंड, उम्र के इस पड़ाव में नए जीवनसाथी की तलाश कर रहे बुजुर्ग

इस देश में बढ़ रहा ‘Twilight love’ का ट्रेंड, उम्र के इस पड़ाव में नए जीवनसाथी की तलाश कर रहे बुजुर्ग

- Advertisement -

नई दिल्ली। कहा जाता है कि प्यार की कोई उम्र नहीं होती। एक समय पर हर शख्स को साथी की जरूरत महसूस होती ही है। इन दिनों चीन में उम्रदराज लोगों के बीच नया ट्रेंड (New trend) देखने को मिल रहा है। 60-70 साल की उम्र में दोबारा शादी करने वाले और तलाक लेने वाले लोगों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। लोग डेटिंग शो से लेकर ऑनलाइन चैट रूम में अपने साथी की तलाश कर रहे हैं। चीनी मीडिया में इस व्यवहार को ट्विलाइट लव (Twilight love) का नाम दिया गया है।


डेटिंग प्रोग्राम में लुभावने नामों के साथ शामिल होने वाले प्रौढ़ावस्था पार कर चुके लोगों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। हालत यह है कि उम्रदराज और अकेले लोगों के लिए ऑनलाइन चैटिंग रूम (Online chatting room) भी बनने लगे हैं। हालांकि, डेटिंग शो और ऑनलाइन चैटिंग चीनी लोगों की पहली पसंद नहीं है। इसके लिए वे सबसे पहले स्थानीय पार्क का रुख करते हैं। बीजिंग में ऐसे लोग ज्यादातर चांगपुहे और चेंपल ऑफ हेवेन का रुख करते हैं। चॉन्गकिंग के हॉन्गयाडोंग पार्क में जोड़ियां बनाने के लिए अलग से स्थान निर्धारित है।

झियान शहर में उम्रदराज लोग हर बुधवार और शनिवार को रिवॉल्यूशन पार्क में जमा होते हैं। पार्क में ब्लाइंड डेट (Blind date) की उम्मीद ज्यादा होती है क्योंकि एक साथ ज्यादा लोग जमा होते हैं। लगातार बढ़ती उम्र प्रत्याशा का मतलब है कि लोग अपने जीवनसाथी से ज्यादा जी रहे हैं। एक सरकारी आंकड़े के अनुसार चीन में अपना जीवनसाथी खो चुके लोगों की कुल तादाद करीब 4..80 करोड़ है। साल 20150 तक यह संख्या 11..84 करोड़ हो जाने का अनुमान है।

आश्चर्य चह है कि अपना जीवनसाथी खो चुके हर पांच में से चार व्यक्ति दोबारा शादी करना चाहता है। इतना ही नहीं, बीजिंग में तलाक के करीब एक-तिहाई मामले 60-70 साल की उम्र के लोगों द्वारा दर्ज कराए जाते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि जिनके जीवनसाथी (partner) जीवित हैं, वे उन्हें तलाक देना चाहते हैं। वहीं, देश में सिंगल उम्रदराज लोगों की बढ़ती तादाद से स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं भी सामने आ रही हैं। उनके बीच एचआईवी संक्त्रस्मण के मामले बढ़ रहे हैं। 2012 के बाद 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों में एचआईवी संक्त्रस्मण लगभग तीन गुना बढ़ गया है। कई रिपोर्ट्स में बताया गया है कि उम्रदराज लोग संबंध बनाते समय सुरक्षा का ध्यान नहीं रखते।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस Link पर Click करें…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है