Covid-19 Update

1,98,877
मामले (हिमाचल)
1,91,041
मरीज ठीक हुए
3,382
मौत
29,548,012
मामले (भारत)
176,842,131
मामले (दुनिया)
×

लॉकडाउन में छूटी Job, परेशान ना हों इन सेक्टरों पर रखें नजर, Hiring के चांस ज्यादा

लॉकडाउन में छूटी Job, परेशान ना हों इन सेक्टरों पर रखें नजर, Hiring के चांस ज्यादा

- Advertisement -

नई दिल्ली। कोरोना संकट के चलते पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) है। काफी लोग काम-धंधा छोड़कर घर की तरफ जा रहे हैं तो कुछ को निकाल दिया गया है। ऐसे में जिन लोगों के पास फिलहाल नौकरी नहीं है वे लोग परेशान ना हों। मैनपावर,  केलीOCG, पीपलस्ट्रॉन्ग और एक्सफेनो के रिक्रूटमेंट एक्सपर्ट्स का अनुमान है कि बहुत से सेक्टर्स में रोजगार(Employment) घटने के बावजूद एजुटेक, ई-कॉमर्स, ट्रांसपोर्ट और लॉजिस्टिक्स के साथ ही फार्मास्युटिकल सेक्टर्स में हायरिंग जारी रहेगी। ट्रांसपोर्ट और लॉजिस्टिक्स सेक्टर में डिमांड की तुलना में सप्लाई कम है। इन सभी सेक्टर्स को बहुत-सी डिविजन में टैलेंट हायर करने की जरूरत होगी। मशीन लर्निंग, डेटा और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) जैसे स्किल्स के लिए अधिक सैलरी पैकेज दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: टाइम दिखाने के साथ हाथ भी सैनिटाइज करेगी ये Hand care watch

एजुटेक और ऑफिस ऑटोमेशन कंपनियों को हायरिंग की जरूरत

स्पेशियलिस्ट स्टाफिंग कंपनी एक्सफेनो के को-फाउंडर कमल कारंत का कहना है कि एजुटेक और ऑफिस ऑटोमेशन कंपनियां हायरिंग (Hiring) बढ़ा सकती हैं। इसके अलावा हेल्थकेयर, फार्मास्युटिकल और मेडिकल डिवाइसेज से जुड़ी कंपनियों को टैलेंट की जरूरत होगी। लॉकडाउन के दौरान इन कंपनियों का बिजनस बढ़ा है और इन्हें सेल्स एंड मार्केटिंग, इंजीनियरिंग, रिसर्च, टेस्टिंग और कस्टमर सपोर्ट के लिए हायरिंग करनी होगी।


क्राइसिस मैनेजर

कई सेक्टर्स में क्राइसिस मैनेजर के नए प्रोफाइल (New profile) के लिए भी डिमांड होगी। उन्होंने बताया, ‘कंपनियां ऐसे प्रोफेशनल्स की खोज करेंगी जो आने वाले समय में इसी तरह के संकट की स्थिति होने पर जोखिम और नुकसान को कम करने और बिजनेस को जारी रखने की योजना बनाने में मदद कर सकें।’इस सेक्टर्स की कुछ कंपनियों ने ईटी को बताया कि वे हायरिंग करने की योजना बना रही हैं।

IT और फार्मा

लॉकडाउन को मई के अंत या जून में चरणबद्ध तरीके (विशेषतौर पर मेट्रो शहरों में) से हटाया जाएगा। टेक्नॉलजी में विशेष स्किल्स रखने वालों की डिमांड अधिक हो सकती है। देश की टॉप IT कंपनियों को ऐसे टैलंट की जरूरत होगी। ह्यूमन रिसोर्सेज सॉल्यूशंस फर्म पीपलस्ट्रॉन्ग के सीनियर एग्जिक्यूटिव देवाशीष शर्मा ने बताया कि फार्मास्युटिकल सेक्टर में रिसर्च, टेस्टिंग और सेल्स जैसी डिविजंस के लिए हायरिंग की जाएगी।

कॉन्टेंट डिविजन

एजुटेक स्टार्टअप टेस्टबुक के CEO आशुतोष कुमार ने बताया कि वह कॉन्टेंट डिविजन को मजबूत करने के लिए हायरिंग करेंगे। टेस्टबुक सरकारी नौकरियों के लिए तैयारी में छात्रों की मदद करती है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है